हाथरस, जागरण संवाददाता । अभी तक ताे आपने पुरुषों को ही अवैध शराब की बिक्री करने में लिप्त होने की खबरें सुनी होंगी मगर अब महिलाएं भी अवैध शराब के कारोबार से जुड़ गई हैं। इस बात का खुलासा तब हुआ जब आबकारी विभाग की टीम ने ताबड़तोड़ दबिश के दौरान एक महिला को शराब की बिक्री करते हुए पकड़ लिया। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर कार्यवाही की गई है। इसके अलावा गांव गांव माइक के जरिए अवैध शराब की बिक्री होेने पर तत्काल सूचना देने की अपील भी की जा रही है।

पांच लीटर अवैध देसी शराब के साथ पकड़ी गयी महिला

जिला आबकारी अधिकारी हाथरस सुबोध कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में आबकारी व पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा थाना सासनी अंतर्गत ग्राम बिजहारी में अवैध शराब के विभिन्न संदिग्ध अड्डों पर दबिश व छापेमारी की कार्यवाही की गई। कार्यवाही के दौरान सुनीता पत्नी ललित निवासी बिजहारी थाना सासनी को लगभग पांच लीटर अवैध देसी शराब के साथ गिरफ्तार किया गया।

लोगों को शराब से होने वाली हानियों को बताया गया

गिरफ्तार महिला अभियुक्त के खिलाफ थाना सासनी में आबकारी अधिनियम की सुसंगत धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कराकर आवश्यक कार्यवाही की गई। इस दौरान टीम ने उक्त गांवों में चौपाल के माध्यम से लाउस्पीकर के द्वारा लोगों को अवैध, नकली सस्ती मदिरा से दूर रहने व उक्त के सेवन से जनस्वास्थ्य को होने वाली हानियों के प्रति जागरूक किया गया। गांव में या आस -पास किसी भी व्यक्ति द्वारा शराब बनाने या बेचने का काम करता है तो इसकी गोपनीय सूचना आबकारी विभाग व पुलिस को देने के लिए कहा गया। सूचना देने वाले का नाम गोपनीय रखा जाएगा। तत्पश्चात टीम द्वारा जनपद में संचालित मदिरा दुकानों की आकस्मिक चेकिंग व निरीक्षण किया गया। कार्यवाही में उक्त अधिकारी के साथ आबकारी निरीक्षक सासनी श्रीराम, आबकारी निरीक्षक कृष्ण मुरारी सिंह व उपनिरीक्षक विपिन यादव मय टीम उपस्थित रहे।

सादाबाद क्षेत्र में भी दी गई दबिश

जिला आबकारी अधिकारी सुबोध कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में आबकारी टीम द्वारा थाना सादाबाद अंतर्गत ग्राम अमरपुर, बिसावर व खामानी गढ़ी में अवैध शराब के विभिन्न संदिग्ध अड्डों पर दबिश व छापेमारी की कार्यवाही की गई। कार्यवाही के दौरान कहीं से आबकारी अपराध से संबंधित किसी तरह के मादक पदार्थ या शराब की बरामदगी नहीं हुई। इस दौरान टीम ने उक्त गावों में चौपाल के माध्यम से लाऊड स्पीकर के द्वारा लोगों को अवैध,नकली सस्ती मदिरा से दूर रहने व उक्त के सेवन से जनस्वास्थ्य को होने वाली हानियों के प्रति जागरूप किया गया । गांव में या आस -पास किसी भी ब्यक्ति द्वारा शराब बनाने या बेचने का काम करता है तो इसकी गोपनीय सूचना आबकारी विभाग व पुलिस को देने के लिए कहा गया। सूचना देने वाले का नाम गोपनीय रखा जाएगा। तत्पश्चात टीम द्वारा जनपद में संचालित मदिरा दुकानों की आकस्मिक चेकिंग व निरीक्षण किया गया, दुकानें नियमानुसार संचालित होती हुई पाई गई।

Edited By: Anil Kushwaha