अलीगढ़, जागरण संवाददाता । राजकीय होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज छेरत की बीएचएमएस प्रथम वर्ष की छात्रा करिश्मा यादव द्वारा की गई आत्महत्या के लिए जिम्मेदार मेडिकल छात्र अब्दुल रहमान उर्फ डॉक्टर समीर पुत्र निजामुद्दीन निवासी गांव परसा पंडित, थाना डुमरियागंज, जनपद सिद्धार्थनगर को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। उसे पुलिस ने शनिवार की सुबह छेरत तिराहा, कासिमपुर रोड से गिरफ्तार कर लिया था।

मृतका के पिता ने दर्ज करायी थी रिपोर्ट

डॉक्टर समीर के खिलाफ रिपोर्ट मृतक छात्रा के पिता उपदेश कुमार पुत्र स्वर्गीय सत्यव्रत सिंह, निवासी झिंगुपुर, थाना सैफई, जनपद इटावा ने दर्ज कराई थी। जिसमें उन्होंने बताया था कि उसकी पुत्री करिश्मा यादव ने अपनी मां को फोन पर बताया था कि अब्दुल रहमान उर्फ डॉक्टर समीर उसे रास्ते में आते जाते परेशान करता है व फोन पर भी टॉर्चर करता है। पुलिस ने डॉक्टर समीर को शनिवार की सुबह दस बजे गिरफ्तार कर लिया। इधर राजकीय होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज में छात्र-छात्राओं में कल से ही मातम पसरा हुआ है। अपनी साथी अपनी साथी छात्रा की मौत पर वे पूरी तरह से गम में डूबे हुए है। मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने शनिवार को दोपहर बारह बजे दिवंगत छात्रा की आत्म शांति के लिए शोक सभा का आयोजन किया जिसमें दो मिनट का मौन धारण कर छात्रा करिश्मा को श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान मेडिकल कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉक्टर योगेंद्र सिंह माहुर व समस्त स्टाफ ने मीटिंग कर निर्णय लिया कि सभी छात्र छात्राओं की मनो स्थिति बहुत खराब है जिसे देखते हुए उन्होंने सभी छात्र छात्राओं की छुट्टी कर दी  ताकि वे अपने घर जाकर इस गमगीन माहौल से उबर सके। प्राचार्य योगेंद्र सिंह माहुर ने बताया कि कॉलेज खुलने के बारे में बाद में सभी छात्रों को सूचित कर दिया जाएगा।

Edited By: Anil Kushwaha