जास, अलीगढ़ : पंचायत चुनाव को लेकर प्रशासनिक तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। शनिवार को डीएम ने शांति पूर्ण चुनाव के लिए जिले में 12 सुपर जोनल, आठ प्रभारी और तीन पर्यवेक्षणीय अधिकारी तैनात कर दिए। इन्हें चुनाव के बाद मतपेटियों को स्ट्रांग रूम में जमा कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इनमें गंगीरी में सुपर जोनल मजिस्ट्रेट संदीप केला, बिजौली में सुपर सुरेंद्र कुमार, अतरौली में राजबहादुर, अकराबाद में अंजुम बी, जवां में संजीव ओझा, धनीपुर में कुंवर बहादुर सिंह, लोधा में ऊषा सिंह, इगलास में सौरभ यादव, गोंडा में भरत कुमार, खैर में सचिन, टप्पल में संतोष कुमार, चंडौस में एनके सहानिया को तैनात किया गया है। वहीं, ब्लाक गंगीरी, अतरौली, बिजौली का प्रभारी मजिस्ट्रेट पंकज कुमार को बनाया गया है। अकराबाद और धनीपुर का प्रभारी मजिस्ट्रेट रंजीत सिंह को बनाया गया है। जवां ब्लाक में रंजीत सिंह और प्रवीण यादव संयुक्त रूप से प्रभारी मजिस्ट्रेट रहेंगे। इगलास और गोंडा ब्लाक में कुलदेव सिंह प्रभारी मजिस्ट्रेट रहेंगे। खैर व टप्पल ब्लाक में अंजनी कुमार सिंह को प्रभारी मजिस्ट्रेट बनाया गया है। चंडौस में प्रवीण यादव को प्रभारी मजिस्ट्रेट बनाया गया है। इसके साथ ही पूरे जिले के लिए तीन पर्यवेक्षण के तौर पर अधिकारी नियुक्त हुए हैं। इसमें गंगीरी, बिजौली, अतरौली, अकराबाद, जवां का जिम्मा एडीएम न्यायिक राकेश पटेल को सौंपा गया है। धनीपुर और लोधा ब्लाक का जिम्मा एडीएम सिटी राकेश मालपाणि संभालेंगे। वहीं, इगलास, गौंडा, खैर, टप्पल, चंडौस का जिम्मा एडीएम प्रशासन देवी प्रसाद पाल का सौंपा गया है। 12 रिजर्व निर्वाचन अधिकारी तैनात किए गए हैं।

धन लक्ष्मी अलीगढ़ की प्रेक्षक नियुक्त

शासन स्तर से पंचायत चुनाव की प्रेक्षक के तौर पर पहले जिले के नोडल अधिकारी व लोक निर्माण विभाग के प्रमुख नितिन रमेश गोकर्ण को जिम्मेदारी दी थी, लेकिन अब इस आदेश में बदलाव हो गया है। अब अपर स्थानिक आयुक्त धन लक्ष्मी को प्रेक्षक बनाया गया है।