अलीगढ़, जेएनएन : कोरोना वायरस संक्रमण के दौर में बिजली विभाग के मनमाने बिलों ने उपभोक्ताओं का दिल बिठा दिया है। दुकान व तमाम प्रतिष्ठान बंद होने के बाद भी बिल इतना आ रहा है कि उपभोक्ता देखकर दंग हैंं। उनका कहना है कि इतना बिल तो दुकानें खुलने पर भी नहीं आता था, जबकि उस समय पंखे, कूलर, एसी समेत तमाम उपकरण चलते थे।

देश में चल रहा लॉकडाउन

देश में लॉकडाउन चल रहा है। बिजली विभाग भी उपभोक्ताओं को बिल नहीं भेज पाया था। उपभोक्ताओं से कहा गया था कि पिछले महीने के अनुपात में बिल आएगा। लॉकडाउन में ढील मिलने के बाद अब उपभोक्ताओं के पास बिल पहुंचने लगे हैं, जिन्हें देखकर उपभोक्ताओं को करंट लग  रहा है। सुरेंद्र नगर में पांच से आठ यूनिट बिजली खर्च होने पर भी बिल 1000 हजार रुपये से अधिक का आ गया है। उपभोक्ता बिल कम कराने गए तो कर्मचारियों ने कहा कि इतना ही जमा करना पड़ेगा। कर्मचारियों ने अभद्रता कर दी। 

पब्लिक पीड़ा

मेरी दुकान बंद थी, बिल बढ़ाकर भेज दिया गया। मैं बिल सही करने गया तो कर्मचारियों ने कह दिया कि पूरा बिल जमा करना होगा। 

चंद्रशेखर शर्मा, सुरेंद्र नगर

मैं नियमित बिल जमा करता हूं, इसके बाद भी बढ़कर बिल आ गया। जानकारी करने आया हूं तो बिजलीघर पर कोई बताने को तैयार नहीं है।

ललित सैनी, गुरुद्वारा रोड

..........

कोई बिल गड़बड़ नहीं आ रहा है। तीन महीने से बिल नहीं जमा किया है, इसलिए कुछ उपभोक्ता भ्रमित हो रहे हैं। उन्हें कोई दिक्कत है तो मुझसे मिल सकते हैं, समस्या का समाधान करूंगा।

एसके जैन, अधीक्षण अभियंता, विद्युत विभाग

Posted By: Mukesh Chaturvedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस