अलीगढ़, जागरण संवाददाता। बन्नादेवी थाना क्षेत्र में महिला एसपीओ की बहू से कुंडल लूटने वाले बाइक सवार बदमाशों की तलाश में पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी खंगाले, मगर कोई ऐसा तथ्य नहीं मिला, जिससे बदमाशों की पहचान कराई जा सके। 

22 जून की रात हुई थी लूट

बन्नादेवी क्षेत्र में तहसील के पिछले गेट व तहसीलदार कोल के आवास के सामने 22 जून की रात करीब 10 बजे थाना बन्नादेवी की महिला एसपीओ अपनी बहू के साथ पैदल जा रही थीं। तभी बाइक सवार दो बदमाशों ने बहू के कान पर झपट्टा मारते हुए कुंडल लूट लिया और फरार हो गए थे। लोगों का कहना था कि थाने व तहसील के पास इस तरह की घटना होना बड़ा सवाल है। यह घटना कोई पहली घटना नहीं है, इससे पहले भी मसूदाबाद क्षेत्र से लेकर नुमाइश मैदान व प्रतिभा कॉलोनी के अंदर कब्रिस्तान वाले रोड, सराय लबरिया पर ऐसी घटनाएं हो चुकी हैं। रघुवीर पुरी पुलिस चौकी के ठीक सामने से दो बार आरोपित मोबाइल छीनकर ले गए। पीआरवी की गश्त नहीं होती। थाना प्रभारी रामकुंवर सिंह ने बताया कि सीसीटीवी के आधार पर आरोपितों की तलाश की जा रही है। टीमें लगी हुई हैं।

मोबाइल चोरी करने वाले दो शातिर दबोचे

अलीगढ़ । आपरेशन प्रहार के तहत थाना सिविल लाइन पुलिस ने शनिवार को मोबाइल चोरी करने वाले गिरोह के दो शातिरों को गिरफ्तार करके जेल भेजा है। आरोपित जेएन मेडिकल कालेज में घूमकर मरीजों व उनके तीमारदारों को फोन चोरी करते थे। इनके पास से चोरी के चार मोबाइल भी बरामद किए गए हैं। इनके नाम अतरौली के गांव कदौली निवासी जुगनू व गांधीपार्क क्षेत्र के छावनी गली नंबर नौ निवासी अमित हैं। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि जेएन मेडिकल कालेज के वार्ड आदि में घूमकर मरीजों व तीमारदारों के मोबाइल उठा लेते थे। अगर कोई टोकता था तो उसे मरीज के तीमारदार होने का हवाला दे देते थे।

Edited By: Anil Kushwaha