अलीगढ़ (जेएनएन)। जवां के गांव गढिय़ा व  भोजपुर के पास स्थित बीयर के ठेके पर गुरुवार शाम ठाकुर व बंजारा समाज के लोगों में हुआ विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया। ठाकुर समाज के लोगों ने बंजारों के माजरा भोजपुर में फायारिंग की। गोली लगने से किशोर की मौत हो गई। गुस्साए बंजारा समाज ने अनूपशहर रोड पर जाम लगा दिया। एसओ जवां की जीप पर पथराव कर दिया। सांसद, विधायक व पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। पांच घंटे बाद पुलिस जाम खुलवाने में सफल रही। प्रधान समेत कई लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।

ऐसे हुआ विवाद

गढिय़ा मिश्रित आबादी वाला गांव है। पास में ही बंजारों का माजरा भोजपुर है। दोनों गांव से कुछ दूरी पर बीयर का ठेका है। ठेके पर ठाकुर समाज के युवक शाम छह बजे बीयर पी रहे थे। जहां भोजपुर के विनोद समेत दो युवकों से उनका विवाद हो गया। विनोद व उसका साथी वहां से चले गए।

माजरे में जाकर की फायारिंग

आरोप है कि ठाकुर समाज के युवक हथियार लेकर भोजपुर पहुंच गए और  फायारिंग कर दी। तभी गांव के घूरेलाल का बेटा अरुण (16) गली से निकल रहा था। हमलावरों ने उसे गोली मार दी। गोली उसकी गर्दन में जा धंसी। परिजन उसे छेरत अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस के देरी से पहुंचने से गुस्साए लोगों ने जवां नहर के पास मार्ग पर जाम लगा दिया। पुलिस जीप पर पथराव कर दिया। आरोपितों पर कार्रवाई की मांग को लेकर जाम लगा रहे लोगों को समझाने में पुलिस को पांच घंटे लग गए। एसपी सिटी अभिषेक ने बताया कि हमलावरों की तलाश जारी है। गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस