अलीगढ़ : थाना टप्पल क्षेत्र में यमुना एक्सप्रेस वे पर शनिवार देररात हादसा हुआ। एक कार आगे चल रहे ट्रक में जा घुसी। हादसे में मेरठ के किठौर थाने में तैनात थाना टप्पल के गांव गोरोला निवासी एक सिपाही की मौत हो गई। वहीं एक पुलिसकर्मी समेत पांच लोग घायल हो गए। इस घायलों में एक को आगरा व चार को जेवर के कैलाश हास्पिटल में भर्ती कराया गया है।

यमुना एक्सप्रेस वे पर समय शनिवार रात करीब 11 बजे 44वें प्वाइंट पर सारोल गांव के निकट आगे चल रहे ट्रक में पीछे से चल रही ब्रिजा गाड़ी टकरा गई, जिसमें सवार सत्येंद्र पुत्र सोमवीर 32 वर्ष, ओमवीर पुत्र बुद्धा 30 वर्ष, कन्हैया पुत्र सोरन 30 वर्ष, सुनील पुत्र घर्मेंद्र 26 वर्ष, धर्मवीर पुत्र राजवीर, रनवीर पुत्र राजेंद्र 25 वर्ष निवासी गौरोला थाना टप्पल सवार थे। ओमवीर गाड़ी चला रहा था, जो मेरठ के किठौर थाने में पुलिस ड्यूटी पर तैनात है। हादसे ट्रक में गाड़ी पीछे से टकरा गई। सत्येंद्र पुत्र सोनवीर की मौके पर मौत हो गई, जो मेरठ में पुलिस ड्यूटी पर तैनात था। पुलिसकर्मी ओमवीर को गंभीर अवस्था में आगरा व बाकी घायलों को जेवर कैलाश के अस्पताल में भर्ती कराया है। बता दें कि कन्हैया, सुनील, धर्मवीर गाजियाबाद में ट्रक चलाते हैं, जिसमें रनवीर इनके साथ परिचालक है। रात में इन सभी युवकों ने एक साथ मिलकर गांव चलने की सलाह की थी। सभी साथी गाड़ी किसी दोस्त से मांग कर लाए थे। सिपाही ने पत्नी व दो बच्चे (लड़का चार वर्ष व लड़की दो माह) को रोते बिलखते छोड़ा है। वहीं

सिपाही की मौत की सूचना से किठौर थाने में शोक की लहर दौड़ गई। उसके अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए थाने से कई पुलिसकर्मी मृतक के गाव आए। बकौल इंस्पेक्टर किठौर अरविंद मोहन शर्मा ने बताया कि सिपाही बहुत की मदुभाषी व होनहार था।

Edited By: Jagran