अलीगढ़ [जेएनएन]। अब पुराने घपले-घोटालों की पोल खुलेगी। नौ दिसंबर को विधान परिषद आश्वासन समिति की 25 सदस्यीय टीम आ रही है। यहां पिछले तीन साल के दौरान विधान परिषद में उठाए गए सवालों की पड़ताल करेगी। एक दर्जन से अधिक विभागों के 17 मामलों का विभागीय अफसरों से ब्योरा तलब किया गया है। अधिकांश मामले घपले-घोटालों के हैं।

25 सदस्य होंगे शामिल

सभापति ओमप्रकाश शर्मा के नेतृत्व में विधान परिषद की 25 सदस्यीय समिति आठ दिसंबर को अलीगढ़ आएगी। रात्रि प्रवास होगा। नौ दिसंबर को कलक्ट्रेट में बैठक होगी। सभापति के साथ एक दर्जन विधान परिषद सदस्य होंगे। कर्मचारी व अधिकारी होंगे। सभी को प्रोटोकॉल के हिसाब से व्यवस्था दी जा रही है। एडीएम सिटी राकेश मालपाणि का कहना है कि विधान परिषद की 25 सदस्यीय समिति आ रही हैं। सभापति भी शामिल होंगे। तैयारियां की जा रही हैं।

इन मुद्दों की पड़ताल करेगी समिति

- प्राइमरी व जूनियर हाईस्कूलों में बिजली कनेक्शन का आवंटन।

- गांव धर्मपुर में बिजली के बिल देने वालों पर कार्रवाई का मामला।

- क्षतिग्रस्त विद्युत तारों की मरम्मत व अंडरग्राउंड करने के संबंध में

- बसों के मरम्मत के नाम, 2012- 13 व 2013-14 में व्यय राशि।

- सड़क मार्गों पर संचालित बसों को निष्प्रयोज्य करने के संबंध में।

- सड़क दुर्घटना को रोकने के लिए परिवहन विभाग की नीति।

- विद्यालयों के शिक्षकों को अनिवार्य बीमा योजना के सभी प्रकरण।

- 2016-17 व 2017-18 में पीडब्ल्यूडी का पौधारोपण।

- मंडल के सभी जिलों में वाणिज्य कर बकाएदारों की वसूली।

- रामघाट जाने वाली सड़क के संबंध में।

- लोक निर्माण विभाग से विधायकों के प्रस्तावों पर सड़क निर्माण में धन आवंटन।

- अतरौली से रामघाट तक सीमेंट से सड़क निर्माण करने के संबंध में।

10 लाख से अधिक बकायेदारों से वसूली के संबंध में।

- ईंट भट्ठा मालिकों की रॉयल्टी व आवेदन फीस न लेने के संबंध में।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस