जेएनएन, अलीगढ़ : कांग्रेस नेता राहुल गांधी के मां दुर्गा, लक्ष्मी व सरस्वती वाले बयान का भाजपा ने गुरुवार को जवाब दिया है। बुद्धि शुद्धि यज्ञ किया। कामना की कि राहुल को भगवान बुद्धि दें, जिससे वह हिंदुओं की भावना को आहत न करें। भाजपाइयों ने बुद्धि शुद्धि यज्ञ में एक आपत्तिजनक तस्वीर भी लगाई थी, जिसमें मां दुर्गा जी मानमर्दन करते हुए दिखाई दे रही हैं। मां दुर्गा के त्रिशुल से घायल हुए राहुल गांधी को दिखाया गया है। इंटरनेट मीडिया पर यह तस्वीर वायरल हो रही है।

यह दिया था बयान 

राहुल गांधी ने अभी कुछ दिन पहले कहा था कि आरएसएस और भाजपा मां दुर्गा, लक्ष्मी और मां सरस्वती की शक्ति को कम कर रही है। इसके चलते उनका विरोध शुरू हो गया है। भाजपा महानगर मंत्री संदेश राज के नेतृत्व में अचलताल स्थित मंदिर पर राहुल गांधी की बुद्धि शुद्धि के लिए यज्ञ कराया गया। संदेश राज ने कहा कि राहुल गांधी ने देवियों पर अपमानजनक टिप्पणी कर देश के करोड़ों हिंदुओं की भावना आहत की है। उनकी बुद्धि ठीक करने के लिए शुद्धि-बुद्धि यज्ञ कराना पड़ा।

कभी टोपी पहन लेते हैं तो कभी जनेऊ 

राहुल गांधी कभी टोपी पहन लेते हैं तो कभी जनेऊ धारण कर लेते हैं तो कभी पगड़ी पहन लेते हैं। उन्हें पता होना चाहिए कि रूप बदलने से कुछ नहीं होता है, ज्ञान अर्जित करें। राहुल जब तक सार्वजनिक तौर पर माफी नहीं मांग लेते हैं, तब तक विरोध चलता रहेगा। शुक्रवार को गांधीपार्क थाने में राहुल गांधी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। अनुसूचित मोर्चा के महानगर अध्यक्ष सोनू जाटव ने कहा कि हिंदुओं की आस्था से खिलवाड़ कतई बर्दास्त नहीं करेंगे। पंडित प्रदीप महाकाल और अनिल पंडित ने मंत्रोच्चार के साथ यज्ञ संपन्न कराया। यज्ञ में राजकमल सोनकर, अजय सिंह, प्रदीप वाल्मीकि, धीरज चौहान, विशाल शर्मा, राकेश सहाय, अजीत, अमित, देव चौहान, विपिन चंचल, दीपक माहौर, दीपक गिहारा आदि शामिल हुए।

विवादित तस्वीर बनाई

शुद्धि-बुद्धि यज्ञ के समय राहुल गांधी की विवादित तस्वीर बनवाकर रखी गई। इसमें मां दुर्गा राहुल गांधी का मानर्मदन करते हुए दिख रही हैं। तस्वीर में राहुल गांधी नीचे गिरे हुए हैं। उनके शरीर में मां दुर्गा का त्रिशूल घुसा हुआ है, जिससे लहू निकल रहा है। शेर भी हमलावर है। हालांकि, संदेश राज ने कहा कि राहुल गांधी को कोई संज्ञा नहीं दी गई है, सिर्फ चित्र प्रदर्शित किया गया है।

Edited By: Mukesh Chaturvedi