अलीगढ़ [जेएनएन]। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर 23 फरवरी को ऊपरकोट पर हुए बवाल में आरोपी भाजपा नेता विनय वाष्र्णेय को गिरफ्तार कर लिया है। इसके तीन साथियों को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है। इससे भाजपाइयों में बेहद गुस्सा है। विरोध में व्यापारियों ने कई जगह दुकानें बंद कर दी हैं। खास बात यह है कि भाजपा नेता को रात में ही जेल भेज दिया गया। इसकी पुष्टि जेलर ने कर दी है। पुलिस ने यह कदम ऊपरकोट बवाल में गोली लगने से घायल तारिक के वेंटीलेटर पर पहुंचने के बाद उठाया है।

यह है मामला

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर ऊपरकोट पर 23 फरवरी को बवाल हो गया था। इसमें कई पुलिस कर्मी घायल हुए थे। आरएएफ की गाड़ी भी तोड़ दी गई थी। महिलाओं ने पत्थरबाजी भी की थी। आगजनी व पथराव के बीच युवक तारिक गोली लगने से घायल हो गया था। तब से वह जेएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती है। बुधवार को तबियत अधिक खराब होने पर उसे वेंटीलेटर पर ले लिया था। इसके बाद ही पुलिस सतर्क हो गई। बुधवार रात में बवाल में आरोपी भाजपा नेता विनय वाष्र्णेय व उसके तीन साथियों को पुलिस ने उठा लिया था। भाजपा नेता को रात में ही जेल भेज दिया गया था।

तारिक की हालत स्थिर, मेडिकल  की आइसीयू में भर्ती

ऊपरकोट बवाल के दौरान बाबरी मंडी में हुई फायङ्क्षरग में घायल तारिक की हालत स्थिर है। उसका मेडिकल कॉलेज की आइसीयू में इलाज चल रहा है। तारिक के स्वास्थ्य को लेकर दिनभर तरह-तरह की अफवाहें भी उड़ीं। देर शाम कोतवाली इंस्पेक्टर रवेंद्र कुमार सिंह ने स्पष्ट किया है कि तारिक का आइसीयू में इलाज चल रहा है। उल्लेखनीय है कि  सीएए के विरोध में चल रहे प्रदर्शनों के बीच 23 फरवरी को ऊपरकोट पर बवाल हो गया था। इसके बाद बाबरी मंडी में भी पथराव के साथ फायङ्क्षरग हुई थी। इसमें गोली लगने से तारिक घायल हो गया था।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस