अलीगढ़ (जेएनएन)। रसलगंज चौराहे पर चेकिंग के दौरान ट्रैफिक सिपाही ने बिना हेलमेट जा रहे एक भाजपा कार्यकर्ता को रोक लिया। आरोप है कि कार्यकर्ता ने खुद का परिचय दिया तो ट्रैफिक सिपाही ने अभद्रता कर डाली और कहा कि भाजपा की सरकार है तो क्या खा जाओगे? योगी की सरकार जब से बनी है गुंडई हो रही है। योगी ने हर जगह गुंडई करा रखी है। सिपाही के अभद्र व्यवहार की जानकारी कार्यकर्ता ने भाजपा नेताओं को दी तो वे मौके पर आ गए और हंगामा करते हुए आरोपित सिपाही पर कार्रवाई की मांग पर अड़ गए।

यह है मामला

घटनाक्रम सोमवार की शाम का है। रसलगंज चौराहे पर ट्रैफिक सिपाही ने वहां से गुजर रहे एक भाजपा कार्यकर्ता को बिना हेलमेट पकड़ लिया। आरोप है कि सिपाही रूप सिंह यादव ने चालान या जुर्माने के बदले 100 रुपये देने की मांग की। कार्यकर्ता ने भाजयुमो के महानगर अध्यक्ष निखिल माहेश्वरी से सिपाही की बात कराई। सिपाही से उन्होंने कार्यकर्ता को छोडऩे का अनुरोध किया। आरोप है कि सिपाही रूप सिंह ने कह दिया कि भाजपा सरकार है तो क्या खा जाओगे? योगी सरकार जब से बनी है गुंडई हो रही है। योगी ने हर जगह गुंडई करा रखी है। सिपाही के बयान पर भाजयुमो महानगर अध्यक्ष निखिल माहेश्वरी साथियों संग रसलगंज चौराहे पर आ गए। पूर्व मेयर शकुंतला भारती भी आ पहुंची। उन्होंने सिपाही पर कार्रवाई की मांग करते हुए हंगामा करना शुरू कर दिया।

एसएसपी से कराई बात

इंस्पेक्टर बन्नादेवी रविंद्र कुमार दुबे, सीओ बन्नादेवी प्रशांत सिंह आ गए और उन्होंने कार्यकर्ताओं को कार्रवाई का भरोसा दिलाते हुए एसएसपी से भी बातचीत कराई। एसएसपी ने प्रकरण में जांच व कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। आरोपित ट्रैफिक सिपाही ने माफी भी मांगी, लेकिन कार्यकर्ता कार्रवाई पर अड़े रहे। शहर विधायक संजीव राजा व कोल विधायक अनिल पाराशर ने भी कार्यकर्ताओं को कार्रवाई कराने का भरोसा दिया तब कार्यकर्ता वहां से हटे। यहां भाजयुमो उपाध्यक्ष राजीव रज्जी, धीरज चौधरी, रामावतार शर्मा, राहुल चेतन, संदीप मित्तल, प्रशांत पाठक, अजय गुप्ता, विपिन चंचल, नितिन काजल, उमेश माहौर आदि तमाम कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Posted By: Sandeep Saxena

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप