हाथरस (जेएनएन)।  मथुरा जिले से अपहरण व पिता-पुत्री की हत्या में दो साल से वांछित चल रहे सुनील कुमार पुत्र सुरेशचंद्र निवासी नगला विशी (सहपऊ) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। शातिर अपराधी के पकड़े जाने की सूचना पर मथुरा पुलिस सहपऊ पहुंची तथा आरोपित से पूछताछ की। पुलिस ने फिलहाल आम्र्स एक्ट में मुकदमा दर्ज कर आरोपित को जेल भेजा है।

यह है मामला

घटना वर्ष 2016 की है। सुनील मथुरा के जमुनापार थाने से अपहरण व राया से डबल मर्डर के मामले में वांछित चल रहा था। मथुरा पुलिस कई बार दबिश दे चुकी थी, लेकिन वह हाथ नहीं आया था। सुनील के पकड़े जाने की जानकारी पर जमुनापार थाना पुलिस ने सहपऊ पुलिस से संपर्क किया। वहां के एसआई मुनेंद्र कुमार ने बताया कि सुनील के अपनी रिश्ते की बहन से अवैध संबंध थे, जिसके चलते उसने जीजा पुरुषोत्तम का अपहरण कर लिया। जीजा के पिता गोपाल निवासी गौसना, जमुनापार (मथुरा) ने 4 जुलाई 2016 को सुनील व दो लोगों के खिलाफ अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस मुकदमे में गोपाल की बेटी खुशबू (14) भी गवाह थी। मथुरा पुलिस के अनुसार सुनील ने इन पर समझौते का दबाव बनाया, लेकिन जब ये लोग पीछे नहीं हटे तो उसने हत्या की योजना बनाई।

एेसे की हत्या

गोपाल व खुशबू की हत्या कर शव को राया थाना क्षेत्र के गांव सरदारगढ़ के जंगल में फेंक दिया था। शव बरामद होने पर गोपाल के दूसरे बेटे तथा पुरुषोत्तम के भाई सौदान ने 15 नवंबर 2016 को थाना राया में सुनील व उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। तब से मथुरा पुलिस को सुनील व अन्य हत्याभियुक्तों की तलाश थी।

एसएचओ जगदीशचंद्र ने बताया कि शनिवार को सुनील को गांव नगला विशी के पास बंबा पटरी से तमंचा व कारतूस रखने पर गिरफ्तार किया गया। छानबीन में पता चला कि वह मथुरा से वांछित है, जिसके बाद मथुरा पुलिस को सूचना दी गई। अब मथुरा पुलिस बी-वारंट दाखिल कर आरोपित को रिमांड पर लेगी।

पुरुषोत्तम की भी हत्या की आशंका

जमुनापार के एसआई मुनेंद्र कुमार ने बताया कि अपहरण के बाद से पुरुषोत्तम का आज तक कुछ पता नहीं चला है। सुनील दो हत्या कर चुका है। इसलिए पुरुषोत्तम की भी हत्या की आशंका है। पुरुषोत्तम व उनके भाई चंद्रभान की शादी गांव सरदारगढ़ के नथोनी की दो बेटियों अमृता व पुष्पा से हुई थी। सुनील पहले से इस परिवार के संपर्क में था। इसलिए अपहरण व हत्या के दोनों मुकदमों में सुनील के साथ-साथ नथोनी व उसके परिवार के लोग भी नामजद थे। मथुरा पुलिस अब रिमांड पर लेकर सुनील से पुरुषोत्तम के बारे में पता करेगी।

Posted By: Mukesh Chaturvedi