अलीगढ़ [जेएनएन]: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में मुख्यालय से 23 किलोमीटर दूर ब्लॉक अकराबाद के गांव मिर्जा चांदपुर के एक युवक की दूसरी रिपोर्ट भले ही निगेटिव आ गई हो, लेकिन पूरे गांव के लोगों पर सबकी पैनी नजर है। परिवार के सदस्यों को क्वारंटाइन कर लिया गया है। यह युवक दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में शिरकत करने गया था। साथ ही हर व्यक्ति पर प्रशासन की पैनी नजर रखा जा रही हैं। गांव में फोर्स तैनात है। करीब एक हजार की आबादी वाले पूरे गांव के लोगों को सेल्फ क्वारंटाइन कर दिया गया है।

युवक की पहली रिपोर्ट आ गई थी पॉजिटिव

 युवक की रिपोर्ट पॉजीटिव आने पर गुरुवार को ग्रामीणों का पूरा दिन डर में बीता, वहीं देररात दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आने पर सब ने राहत की सांस ली। युवक की पत्नी, तीन बेटों समेत गांव के करीब 16 लोग छेरत स्थित आइसोलेशन अस्पताल में हैं, जिनकी जांच की जाएगी। वहीं ग्राम प्रधान, दो आशा कार्यकर्ता निगरानी में हैं। युवक का चाचा गांव से फरार है।

दिल्ली निजामुद्दीन मरकज में युवक ने की थी शिरकत

युवक 23 मार्च को दिल्ली जमात से गांव आया था। उसने गांव में किसी को इसका एहसास नहीं होने दिया। सामान्य लोगों की तरह सबसे मिला। काम भी करता रहा। गांव के तमाम लोग उसके पास आते और वह भी उनके पास जाता। गुरुवार को युवक की पहली रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर लोग डर गए। अफसरों ने उसके संपर्क में आए लोगों की पड़ताल शुरू की तो 50 के करीब लोगों से यह सीधे मिला है। साथ ही तमाम ऐसे हैं, जिनसे जाने-अनजाने में मुलाकात की। प्रशासन ने उनमें से 16 लोगों को छेरत स्थित आइसोलेशन वार्डमें भर्ती कराया है, जिनमें उसके तीन बेटे व पत्नी शामिल है। देररात युवक की रिपोर्ट निगेटिव होने पर राहत की सांस ली। युवक के संपर्क में ग्राम प्रधान, दो आशा कार्यकर्ता भी आए हैं, जिनकी सतत निगरानी की जा रही है।

 गांव में बांटे 500 मास्क

 गुरुवार को गांव में अफसरों का डेरा रहा। बीडीओ पूर्ण बोरा खुद मॉनिटङ्क्षरग कर रहे हैं। उन्होंने पूरा गांव सैनिटाइज कराया। गांव में घर-घर करीब 500 मास्क बांटे गए। सभी लोगों को 14 दिन तक होम क्वारंटाइन कर दिया गया है। घर के बाहर पोस्टर चस्पा कर दिए हैं। पुलिस फोर्स तैनात है। एसडीएम कोल संदीप ओझा ने भी की व्यवस्था परखीं।

डोर टू डोर राशन

गांव में बुधवार को राशन बंटा था। सैकड़ों लोग लेने गए थे। डीलर ने बायोमीटिक मशीन से राशन बांटा था। लेकिन पहली रिपोर्ट पॉजीटिव आने पर राशन वितरण बंद करा दिया। अब सभी को डोर टू डोर राशन पहुंचाया जा रहा है।

खाली कराया डीडी अस्पताल

प्रशासन ने देरशाम दीनदयाल अस्पताल खाली कराया। सामान्य मरीज घर भेज दिए। अब यहां कोरोना से संक्रमित मरीज ही रहेंगे।

डॉक्टर व स्टॉफ भी होंगे क्वारंटान

अगर कोई पॉजीटिव मामला आता है तो देखभाल में लगे चिकित्सक व अन्य स्टॉफ को भी क्वारंटाइन करने के निर्देश दिए गए हैं। दीनदयाल के स्टॉफ की इसमें ड्यूटी लगनी है। प्रशासन इन्हें अलग से होटल में रखवाएगा। सीडीओ अनुनय झा का कहना है कि युवक की पहली जांच रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी, लेकिन दूसरी निगेटिव आई है। जिले के लिए यह अच्छी खबर है।

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस