गौरव दुबे, अलीगढ़ । राजा महेंद्र प्रताप सिंह (आरएमपीएस) राज्य विश्वविद्यालय अलीगढ़ का प्रबंधन छात्रहित में तेजी से काम करने के लिए सरपट दौडऩे को तैयार है। मगर उसकी राह में डा. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा (आगरा यूनिवर्सिटी) की ओर से नए-नए रोड़े अटकाए जा रहे हैं। पहले मंडलभर के 408 कालेजों की फाइलें देने में महीनों गुजार दिए। अब प्रथम सेमेस्टर के विद्यार्थियों का डेटा देने में लेटलतीफी की जा रही है। इसकी शिकायत शासनस्तर पर कर दी गई है।   

आरएमपीएस से जारी होगी मार्कशीट

आगरा यूनिवर्सिटी ने स्नातक के विद्यार्थियों की प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा कराई है, जो 19 अप्रैल को खत्म हो चुकी हैं। इसका परिणाम आरएमपीएस वि. को दिया जाएगा। आरएमपीएस वि. से मार्कशीट जारी की जाएंगी। इसके बाद द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षाएं आरएमपीएस वि. को करानी हैं। छह अगस्त से परीक्षाएं प्रस्तावित भी कर दी गई हैं। इसके लिए विश्वविद्यालय को आगरा यूनिवर्सिटी से प्रथम सेमेस्टर वाले विद्यार्थियों का डेटा चाहिए। बिना इसके छह अगस्त को सेकेंड सेमेस्टर की परीक्षाएं करा पाना मुमकिन नहीं होगा। मगर आगरा यूनिवर्सिटी की ओर से कई बार पत्राचार के बावजूद विद्यार्थियों का डेटा नहीं दिया जा रहा है। इस पर कुलपति प्रो. चंद्रशेखर की ओर से 12 मई को सचिव उच्‍च शिक्षा को पत्र के माध्यम से शिकायत भेजी गई है।

अभी भी आनी हैं 1500 से फाइलें

आगरा यूनिवर्सिटी ने मंडलभर के 408 कालेजों की 5816 फाइलें भेज दी हैं। मगर अभी भी करीब 1500 फाइलें नहीं भेजी गई हैं। इनका अवलोकन किया जा रहा है। पूरी फाइलें न भेजने से समय से परीक्षाएं कराने में अड़चन आएगी। इसके लिए भी आरएमपीएस वि. की ओर से फिर आगरा यूनिवर्सिटी को पत्र लिखा जा रहा है।

एनएसएस समिति का गठन

आरएमपीएस राज्य वि. अलीगढ़ की राष्ट्रीय स्वयं सेवक समिति का गठन भी कर दिया गया है। अब इस समिति से जुड़कर एनएसएस इकाई डिग्री कालेजों में काम करेंगी। अभी आगरा यूनिवर्सिटी की एनएसएस समिति के जरिए इकाईयां काम कर रही थीं।

आरएमपीएस से संबद्ध कालेज

जिला, संबद्ध कालेज

अलीगढ़, 148

एटा, 131

हाथरस, 91

कासगंज, 38

इनका कहना है

प्रथम सेमेस्टर के विद्यार्थियों का डेटा आगरा यूनिवर्सिटी से नहीं भेजा गया है। इसके बिना सेकेंड सेमेस्टर की परीक्षा कराने में रोड़ा आएगा। शासन को शिकायत भेज दी गई है।

महेश कुमार, रजिस्ट्रार, आरएमपीएस राज्य वि. अलीगढ़

Edited By: Anil Kushwaha