अलीगढ ़: सिविल लाइंस क्षेत्र की लोको कॉलोनी में शनिवार देररात कारपेंटर ने पत्‍‌नी के शराब पीने से मना करने पर तमंचे से कनपटी पर गोली मारकर खुदकशी कर ली। हादसे के बाद घर में कोहराम मच गया। इसके अलावा लोधा में एक युवक ने घरेलू कलह में केरोसिन उड़ेलकर खुद को आग लगा ली। गंभीर हालत में उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

लोको कॉलोनी निवासी मैजुद्दीन उर्फ मैनुद्दीन (44) पुत्र शब्बीर खां कारपेंटर था। एक ही मकान में उसके दो अन्य भाई व परिवार के लोग रहते हैं। इंस्पेक्टर सिविल लाइंस विनोद कुमार ने बताया कि मैजुद्दीन शराब पीने का आदी था। वह शनिवार रात करीब 12 बजे घर पहुंचा तो पत्‍‌नी शबनम ने उसे टोका और शराब न पीने की सलाह दी। यह बात उसे नागवार लगी। वह कमरे में पहुंचा और तमंचा निकाल लाया। तमंचा में कारतूस डालकर कनपटी पर गोली मार ली। लहुलुहान मैनुद्दीन ने कुछ देर बाद मौके पर ही दम तोड़ दिया। खबर पाकर पहुंची पुलिस को उसके शव के पास ही तमंचा व खोखा पड़ा मिला। उस पर पांच बच्चे हैं। मैजुद्दीन के खिलाफ अवैध हथियार रखने का मुकदमा दर्ज किया गया है। इधर लोगों में यही चर्चा रही कि कारपेंटर को ऐसा नहीं करना चाहिए। शराब पीना वैसे भी गलत बात है।

लोधा क्षेत्र के नगला अर्जुनपुर निवासी युनूस ने घरेलू विवाद में रविवार सुबह कमरे में बंद होकर केरोसिन उड़ेलकर आग लगा ली। घटना की जानकारी मिलते ही आसपास के तमाम लोग वहां पर आ गए और पुलिस को सूचना दे दी। गंभीर हालात में उसे परिजन इलाज को जिला अस्पताल ले गए, वहां से मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया।

Posted By: Jagran