जासं, अलीगढ़ : शराब प्रकरण में मुख्य आरोपितों को पकड़ने के बाद अब पुलिस चार्जशीट की तैयारी में लग गई है। मंगलवार को पुलिस ने माफिया ऋषि शर्मा व विजेंद्र कपूर के सहयोगी गौतम को जेल भी भेज दिया। गौतम ने हिरासत में रहने के दौरान पुलिस को शराब की पैकिग का सामान बनाने के कुछ ठिकाने भी बताए हैं। ये ठिकाने अलीगढ़ के अलावा बुलंदशहर में भी हैं। कुछ जगहें ऐसी भी बताई हैं, जहां अभी भी शराब छिपा रखी है। इसकी तस्दीक के लिए पुलिस गौतम को फिर से रिमांड पर लेगी।

हरदुआगंज की तालानगरी स्थित केमिकल फैक्ट्री के मालिक विजेंद्र कपूर ने बुलंदशहर के थाना डिबाई के मोहल्ला चौधरी खैर निवासी गौतम कुमार का नाम लिया था। गौतम विजेंद्र से केमिकल के ड्रम खरीदकर माफिया ऋषि व अन्य को सप्लाई करता था। आरोपित गौतम घी की फैक्ट्री की आड़ में शराब बनाता था। इसको हिरासत में लेने के बाद पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि बुलंदशहर से भी पैकिग का सामान खरीदा जाता था, वहीं अलीगढ़ में भी कुछ ठिकाने हैं। इसके लिए गौतम को रिमांड पर लिया जाएगा और बताए गए स्थान पर जाकर तस्दीक कराई जाएगी। जहरीली शराब का शोर होते ही आरोपित ने शराब को छिपा दिया था। इसकी भी तलाश की जाएगी। एसपी देहात शुभम पटेल ने बताया कि गौतम को फिर से रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी।

हैदराबाद से मंगाए दस्तावेज

विजेंद्र कपूर ने हैदराबाद की जिस कंपनी से मिथाइल अल्कोहल मंगाया था, पुलिस ने वहां संपर्क कर लिया है। वहां से बिल व स्टाक बुक मंगाई है। पता चला है कि आरोपित एक नंबर के बिल के साथ सामान मंगाता था। पुलिस अभी कुछ अन्य दस्तावेजों का सत्यापन कर रही है।

आरोपित मदन का रिमांड मंजूर

एसएसपी ने बताया कि आरोपित मदन का तीन दिन का रिमांड मंजूर हो गया है। बुधवार सुबह से मदन से पूछताछ की जाएगी। शराब सप्लायर के संपर्क में रहे माफिया के बारे में पता लगाया जाएगा।

Edited By: Jagran