जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : आपूर्ति विभाग की टीम ने शुक्रवार को गांधीपार्क क्षेत्र के केशव विहार में छापा मारा। निजी गोदाम में भरे सरकारी राशन के 99 बोरा चावल पकड़े। गोदाम पर मौजूद माफिया ने टीम को धमकाने की कोशिश की, लेकिन सख्ती करने पर भाग गया। गोदाम स्वामी समेत पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। इस गोदाम में चौथी राशन पकड़ा गया है। उसके बाद भी रोक नहीं लग पा रही है।

गुरुवार रात नौ बजे डीएसओ नीरज सिंह को सूचना मिली कि गांधी पार्क क्षेत्र में राशन की कालाबाजारी हो रही है। उन्होंने एआरओ विमल सिकरवार, क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी विपुल प्रताप व पूर्ति लिपिक नवल सिंह को कार्रवाई के निर्देश दिए। टीम गोदाम पर पहुंची तो बाहर ही मालिक गजेंद्र पाल सिंह मिले। उन्होंने बताया कि गोदाम में उनके पुत्र सुमित कुमार की कंपनी जाहरवीर ट्रेडिंग कंपनी का माल रखा जाता है। टीम ने उनसे राशन से संबंधित कागजात मांगे, वह दिखा नहीं पाए। आरोप है कि वे टीम को जांच करने से रोकने लगे, अभद्रता की। टीम के सख्ती करने पर वे चले गए। टीम को गोदाम में चावल के 42 बोरे सिले हुए मिले। पांच बोरे खुले पड़े थे। एक बोरे में करीब 50 किलो ग्राम चावल था। गोदाम के गेट के पास टाटा 207 लोडर (यूपी-81एएफ-74) समेत दो वाहन खड़े थे। जांच करने पर लोडर में 19 बोरे चावल के मशीन से सिले हुए मिले। इसमें 33 बोरे चावल से भरे हुए हाथ से सिले हुए मिले। 30 बोरे खाली थे। टीम ने राशन को स्थानीय डीलर महेश पाल सिंह के सुपुर्द कर दिया। वाहनों को गांधीपार्क पुलिस के हवाले कर दिया। पूर्ति निरीक्षक नवल सिंह आजाद की तहरीर पर गांधीपार्क पुलिस ने गोदाम स्वामी गजेंद्रपाल सिंह, ट्रेडिंग कंपनी स्वामी सुमित कुमार, वाहन स्वामी, चालक-परिचालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

इस गोदाम में पहले भी तीन बार राशन पकड़ा जा चुका है। अंतिम बार एसडीएम रहे कोल डॉ. पंकज कुमार वर्मा के नेतृत्व में कार्रवाई की गई थी। तब करीब 100 बोरे गेहूं-चावल मिला था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप