अलीगढ़ : एसडीएम कोल जोगेंद्र सिंह के नेतृत्व में बुधवार को छापामार कार्रवाई दो स्थानों से 510 बोरा राशन का चावल पकड़ा। दोनों मामलों में आढ़ती समेत दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया है।

एसडीएम को सूचना मिली कि बन्नादेवी पुलिस ने राशन से पकड़ा ट्रक (यूपी 81सीटी 0620) पकड़ा है। उन्होंने तत्काल पूर्ति निरीक्षक प्रमोद कुमार, लिपिक विनोद कुमार को मौके पर भेजा। यहां ट्रक में चावल के बोरे भरे हुए मिले। मौके पर चालक मिला। उसने अपना नाम राजेश कुमार निवासी हरदासपुर लोधा बताया। जानकारी हुई कि यह ट्रक धनीपुर मंडी में आढ़ती शिवकुमार का है। धनीपुर मंडी में लकी ट्रेडर्स के नाम से आढ़त चलाते हैं। टीम को ट्रक से चावल के 410 बोरे मिले। चालक उसके अभिलेख उपलब्ध नहीं करा सका। इस चावल को पनैठी के गोदाम प्रभारी गुलवीर सिंह की सुपुर्दगी में दे दिया गया। ट्रक पुलिस को सौंप दिया। आढ़ती शिव कुमार के खिलाफ बन्नादेवी थाने में राशन की कालाबाजारी में मुकदमा दर्ज करा दिया है। एसडीएम ने आढ़त का लाइसेंस भी निरस्त करने की संस्तुति की है। एसडीएम को सूचना मिली कि विजयगढ़ क्षेत्र के दीपपुर गांव में राशन का चावल कालाबाजारी के लिए लाया जा रहा है। एसडीएम के निर्देश पर डीएसओ नीरज सिंह ने आपूर्ति विभाग की टीम भेजी। यहां गाड़ी (यूपी 86डी 9691) खड़ी थी। इसमें जूट के बोरों में चावल भरा हुआ था। जांच में चावल राशन का पाया। टीम ने गाड़ी से 100 बोरों को लेकर स्थानीय राशन डीलर के सुपुर्द कर दिया। गाड़ी विजयगढ़ पुलिस को दे दी गई। गाड़ी चालक बॉबी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया है।

चावल की ही कालाबाजारी क्यों : धनीपुर क्षेत्र राशन की कालाबाजारी का हब बन चुका है। कई मामलों में आढ़तियों की भूमिका भी संदिग्ध मिली है। सूत्रों की मानें तो माफिया आढ़तियों के माध्यम से आसानी से राशन ठिकाने लगा देते है। यहां सबसे अधिक कालाबाजारी राशन के चावल की हो रही है। पिछले पांच मामलों में चावल की ही कालाबाजारी मिली है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप