आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा फोर्ट और यमुना ब्रिज रेलवे स्टेशन के बीच यमुना पर दूसरी रेल लाइन बिछाने के लिए पुल बनाने का काम तेजी से चल रहा है। ऐसे में रेलवे द्वारा दूसरी रेल लाइन के लिए यमुना ब्रिज पर रेलवे की जमीन पर अवैध निर्माण हटाने के लिए नोटिस दिए हैं। नोटिस मिलने के बाद सालों से रह रहे लोग परेशान हैं।

आगरा फोर्ट स्टेशन से यमुना ब्रिज के लिए अभी एक ही रेल लाइन है। ऐसे में एक साथ दो ट्रेनें आने पर एक ट्रेन को रोकना पड़ता है। इससे यात्रियों को परेशानी होती है। इस परेशानी को खत्म करने के लिए रेलवे द्वारा यमुना पर दूसरी लाइन के लिए पुल बनाया जा रहा है। इस काम के चलते रेलवे ने यमुना ब्रिज मेहताब बाग के पास रेलवे की जमीन पर अवैध निर्माण कर रह लोगों को जमीन खाली करने को नोटिस दिए हैं। अभी करीब 50 लोगों को नोटिस दिया गया है। इन सभी लोगों को रेलवे के संपदा अधिकारी द्वारा जमीन के मालिकान हक संबंधित कागजात पेश करने व अपना पक्ष रखने के लिए कई बार समय दिया जा चुका है, लेकिन किसी की ओर से जमीन के कागजात प्रस्तुत नहीं किए गए हैं। ऐसे में रेलवे द्वारा अब सभी को 15 दिन में जमीन खाली करने के नोटिस जारी किए गए हैं। आगरा मंडल के पीआरओ एसके श्रीवास्तव का कहना है कि रेलवे की जमीन पर कहीं भी अवैध कब्जा होता है उसे समय-समय पर हटाया जाता है।

नोटिस मिलने के बाद परेशान लोग

नोटिस मिलने के बाद सालों से मकान बनाकर रह रहे लोग परेशान हैं। उनको समझ नहीं आ रहा है कि अब क्या करें। उनके पास रहने के लिए कोई दूसरी व्यवस्था नहीं है। नोटिस मिलने के बाद सभी लोग इधर से उधर चक्कर काट रहे हैं। पिछले दिनों डीएम से मिलने भी गए थे। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप