आगरा, जागरण संवाददाता। एक सप्ताह बाद बरात ले जाने की तैयारी कर रहे युवक को छेड़छाड़ के आरोप में जेल जाना पड़ गया। बस्ती में रहने वाली युवती और उसकी बहन के साथ युवक और उसके दोस्तों पर छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया गया है। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर शुक्रवार को जेल भेज दिया। वहीं, युवक के स्वजन का आरोप है कि दूसरा पक्ष उनके बेटे की शादी नहीं होने देना चाहता। उसने नाली के विवाद में उनके बेटे के खिलाफ छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज करा दिया है।

एत्माद्दौला इलाके की रहने वाली युवती और उसकी छोटी बहन घर के सामने सफाई कर रही थीं। आरोप है कि इसी दौरान दीपक, तिलक, सागर, शिवम और विष्णु वहां पहुंचे। युवती और उसकी बहन से छेड़छाड़ करने लगे। युवती ने इसकी जानकारी परिवार के लोगों को दी। युवती की मां और भाई आदि वहां पहुंच गए। उन्होंने दीपक और उसके साथियों का विरोध किया। इस पर आरोपितों ने हमला बोल दिया। लाठी-डंडों से उनकी पिटाई कर दी। युवती के पिता ने एत्माद्दौला थाने में दीपक व उसके साथियों के खिलाफ छेड़छाड़ और मारपीट की तहरीर दे दी।

इंस्पेक्टर एत्माद्दौला संजय कुमार त्यागी ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। दीपक समेत दो लोगों को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया है, जबकि दीपक के स्वजन ने उस पर लगे छेड़छाड़ के आरोप को गलत बताया है। उनका आरोप है कि दूसरा पक्ष दीपक की शादी नहीं होने देना चाहता है। मामला नाली के विवाद का था। दीपक समेत अन्य के खिलाफ गलत मुकदमा दर्ज कराया गया है।

Edited By: Jagran