आगरा, जागरण संवाददाता। शहर में शनिवार को जरा सी बारिश में 50 लाख रुपये स्वाहा हो गए। नाले ओवरफ्लो करने लगे। पॉश कॉलोनी से लेकर मलिन बस्तियों तक पानी भर गया। एमजी रोड हो या फिर यमुना किनारा रोड, एमजी रोड-2, बाग फरजाना, अशोक नगर रोड, बिजलीघर चौराहा सहित अन्य स्थलों पर जलभराव हुआ। कई क्षेत्रों में लोगों के घरों से लेकर दुकानों तक में पानी भर गया। इससे लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

इस साल शहर के 441 नालों की सफाई ठीक से नहीं हुई है। कागजों में भले ही निगम नालों की सफाई के दावे कर रहा हो लेकिन बारिश में इसकी पोल खुल गई। शनिवार को हुई बारिश से शहर के अधिकांश क्षेत्रों में जलभराव हुआ। नगर निगम के अफसरों के पास बड़ी संख्या में फोन पहुंचे। जल निकासी के लिए कुछ क्षेत्रों में गाडिय़ां तक भेजी गईं।

सूरसदन तिराहा पूरा डूबा 

एमजी रोड स्थित सूरसदन तिराहा में हाल ही में नया नाला बना है। नाले की जालियों में कूड़ा फंस गया। इससे आसपास भीषण जलभराव हुआ। अपर नगरायुक्त केबी सिंह, पर्यावरण अभियंता राजीव राठी, सेनेटरी इंस्पेक्टर जितेंद्र सिंह ने खड़े होकर जाली से कूड़ा निकलवाया। तब जाकर जल निकासी हो सकी।

नेशनल हाईवे में भी भरा पानी 

ग्वालियर हाईवे हो या फिर नेशनल हाईवे-2। दोनों हाईवे पर पानी भर गया। इससे वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लग गया। सिकंदरा सब्जी मंडी अंडरपास की अप्रोच रोड, सुल्तानगंज की पुलिया की सॢवस रोड, आइएसबीटी की सॢवस रोड पानी में डूब गई।

इन क्षेत्रों में सबसे अधिक जलभराव 

गोकुलपुरा, चर्च रोड, बाग फरजाना, सेवला, बुंदू कटरा, कमला नगर और बल्केश्वर के कुछ हिस्से में, बिजलीघर चौराहा, आइएसबीटी रोड और हाईवे की सॢवस रोड, पालीवाल पार्क रोड, न्यू अशोक नगर के कुछ हिस्से में, लोहामंडी के कुछ हिस्से में, आवास विकास, आजमपाड़ा, जयपुर हाउस, शाहगंज, बोदला रोड के आसपास।

- नाला ओवरफ्लो होने के चलते घर में गंदा पानी भर गया है। इससे दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जल संस्थान से अफसरों से गंदे पानी की निकासी की शिकायत की गई है।

मीना रावत, गोकुलपुरा

- इस साल नाला ठीक से साफ नहीं हुआ है। इससे भीषण जलभराव हुआ है। इसकी शिकायत नगर निगम के अफसरों से की गई है। जल्द पानी नहीं निकला तो आंदोलन किया जाएगा।

कैलाश राम, खंदारी जेल रोड

 - अगर नालों की सफाई ठीक से होती तो जलभराव नहीं होता। अफसोस, निगम के अफसरों ने झूठे दावे किए। कागजों में ही नालों की सफाई की गई।

विक्रम बघेल, बुंदू कटरा

- तेज बारिश के चलते कुछ क्षेत्रों में जलभराव की स्थिति बनी लेकिन एक घंटे के बाद अधिकांश क्षेत्रों से पानी निकल गया। निचले इलाकों में पानी देरी से निकला।

नवीन जैन, मेयर

 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस