आगरा, जागरण संवाददाता। लॉकडाउन का दौर खत्‍म होकर अनलॉक का वक्‍त शुरू हो चुका है। ऑफिस खुल चुके हैं और वर्क फ्रॉम होम से वर्क फ्रॉम ऑफिस का रूटीन अब धीरे धीरे सेट हो रहा है। अधिकांशत: कार्यालयों में स्‍टाफ की संख्‍या में फेरबदल कर शिफ्टों में काम शुरू करवाया गया है। ऐसे में जो लोग करीब ढाई माह से घर से काम करने के आदि हो गए थे उन्‍हें लिए शुरूआती दिनों लाइफ को फिर से वर्किंग मोड पर लाने में थोड़ी परेशानी हो रही है। चुनौती इसलिए भी मुश्किल है क्‍योंकि हर वक्‍त कोरोना वायरस का खौफ जो साथ है। ऐसे में वरिष्‍ठ फिजिशियन डॉ अरविंद जैन ने कुछ टिप्‍स साझा किये, जो कोरोना से फाइट के साथ लाइफ को सेट करने में काफी मददगार साबित होंगे।

आरोग्य सेतु एप को जरूर करें डाउनलोड

आरोग्य सेतु एप को अपने मोबाइल में डाउनलोड जरूर करें। इससे अगर आप कोरोना वायरस से संक्रमित किसी व्यक्ति के आसपास होंगे तो तुरंत पता चल जाएगा और आप संक्रमण से खुद को बचा पाएंगे।

घर से लेकर जाएं खाना

घर में बना खाना साथ लेकर जाएं। बाहर का खाना न खाएं। ऑफिस कैंटीन में भी जाने से बचें तो बेहतर ही रहेगा। घर का पानी भी ले जा सकते हैं। जहां तक हो सके अपना खाना शेयर करने से बचें।

सफाई पर ध्यान दें

दफ्तर में साफ- सफाई बनी रहे इसका ध्यान रखें। वहां पहुंचते ही अपने हाथों को करीब 20 सेकेंड जरूर धोएं। दरवाजाेें को कोहनी की मदद से खोलें। डेस्क-टेबल, कुर्सी, टेलीफोन और कंप्यूटर कीबोर्ड की सफाई नियमित तौर पर करवाते रहें।

सतर्क रहें

ऑफिस पहुंचने के बाद खांसी-जुकाम या बुखार हो तो तुरंत वहां से निकल जाएं। मुंह को बाजू से कवर करके ही खांसें या छीकें। जो कपड़ा प्रयोग कर रहे हैं उसे साफ करने के बाद इस्तेमाल करें।

सेंट्रल एसी से बचें

यदि ऑफिस में सेंट्रल एसी है तो कोशिश करेंं कि वो न चले। यदि चलता भी है तो मुंह पर मास्‍क लगाकर रखें। हेयर कवर भी लगाकर ही बैंठें।

लिफ्ट के प्रयोग से बचें

लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का प्रयोग करें। यदि जाना जरूरी है तो दो से ज्यादा लोग एक साथ न जाएं। दरवाजे खोलने के लिए कोहनी का इस्तेमाल करें। यदि आपने लिफ्ट बटन, दरवाजों के हैंडल को छुआ है तो अपने हाथों को लगातार सैनिटाइज करते रहें।

न दिखाएं ज्‍यादा व्‍यवहारिकता

किसी भी सहयोगी से न तो हाथ मिलाएं और न ही गले मिलें। सबसे कम से कम एक मीटर की दूरी बनाकर रखें। पानी ऑफिस स्टेशनरी साझा न करें। एक बार ऑफिस के अंदर जाने के बाद बार-बार अंदर-बाहर जाने से बचें। यदि कांफ्रेंस रूम मीटिंग हो तो शारीरिक दूरी रखें और कम से कम लोग हों।

घर आने पर

घर वापस आने पर जूतों को साबुन के पानी से धोएं। जो भी सामान ऑफिस से वापस लाए हैं वो बाहर ही रखें या दरवाजे के पास एक तरफ रख दें। ऑफिस के बैग को सेनेटाइजर से साफ करें जिसमें एल्कोहल की मात्रा 65 फीसद से अधिक हो। हाथों और मुंह को अच्छे से धोएं। हो सके तो नहा लें। कपड़ों को सर्फ के पानी में डाल दें। उसके बाद ही परिवार के अन्य सदस्यों से मिलें।

शरीर का तापमान चेक करें

यदि बुखार हो तो दफ्तर न जाएं। जुकाम हो रहा हो या खांसी आ रही हो तो घर से न निकलें। ठीक हैं तो मॉस्क लगाकर बाहर निकलें और एल्कोहल युक्त सेनेटाइजर हमेशा अपने साथ रखें। मास्क न हो तो गमछा भी आप प्रयोग कर सकते हैं

वाहन का इस्तेमाल

कोशिश करें कि दोपहिया वाहन का इस्तेमाल करें और उस पर भी सिर्फ आप अकेले जाएं। सहयोगियों के साथ मिलकर कार पूल की मदद ले सकते हैं लेकिन ध्यान रखें कि उसमें भी दो से ज्यादा लोग न हों। अगर दफ्तर की कैब से जाते हैं तो कैब में इधर-उधर हाथ न लगाएं, हाथों को धोए बिना अपने मुंह को न छुएं।  

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस