जागरण टीम, आगरा। फतेहपुर सीकरी के उप स्वास्थ्य केंद्रों की रंगाई-पुताई और सास-बहू सम्मेलन के आयोजन के लिए आई धनराशि से 10 लाख रुपये के गबन का आरोप लगाया गया है। यह आरोप एडीओ पंचायत और सीएचसी अधीक्षक पर लगा है। इस मामले की डीएम से शिकायत के बाद जांच एसडीएम और खंड विकास अधिकारी को सौंपी गई है।

मंडी गुड़ की वैशाली, जाजौली की चारुलता, सामरा की उमा देवी, पाली की पूजा और मंडी मिर्जा खां की कृष्णा समेत डेढ़ दर्जन एएनएम ने शासन और जिलाधिकारी को 28 मई को इसकी शिकायत की थी। इसमें सीएचसी अधीक्षक और ग्राम पंचायत प्रशासक व सहायक विकास अधिकारी पंचायत पर स्ट्राइक फंड के 10 लाख रुपये के गबन का आरोप लगाया गया था। पत्र में उन्होंने लिखा है कि उक्त अफसरों ने एएनएम से जबरन हस्ताक्षर कराए और स्ट्राइक फंड का संचालन एएनएम व ग्राम प्रधानों संयुक्त हस्ताक्षरों से होता रहा। आरोप यह भी है कि एकाउंट पेई चेक के बजाय नकद धनराशि निकाली गई जबकि कोरोना काल में उप स्वास्थ्य केंद्रों पर कोई कार्य नहीं हुआ। एसडीएम किरावली विनोद जोशी ने बताया कि 10 लाख रुपये के गबन के मामले में वे और खंड विकास अधिकारी संयुक्त जांच कर रहे हैं। जल्द ही उच्चाधिकारियों को जांच रिपोर्ट सौंप दी जाएगी। दुकान में चोरी की रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही पुलिस

जागरण टीम, आगरा। फतेहपुर सीकरी के चौमा शाहपुर-मंडी मिर्जा खां मार्ग पर स्थित दुकान से चोरी की रिपोर्ट अब तक दर्ज नहीं हुई है। सौनोठी निवासी धर्मेद्र सिंह ने बताया कि उनके खेत में ही बाइक के स्पेयर पा‌र्ट्स की दुकान है। उनका छोटा भाई बाइक का मैकेनिक है। 15 जून की रात को चोरों ने दुकान का ताला तोड़कर 15 हजार रुपये व आटो पा‌र्ट्स चोरी कर लिए। 16 को पीड़ित ने थाने पर तहरीर दी लेकिन पुलिस मुकदमा दर्ज नहीं कर रही। आनलाइन ठगी का आरोपित गिरफ्तार

जागरण टीम, आगरा। दिल्ली के युवक से ठगी के मामले में बसई अरेला पुलिस ने दिलीप निवासी सुताहरी को गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ दिल्ली निवासी मनोज कुमार ने आनलाइन ठगी का आरोप लगाया थ। एसओ शेर सिंह ने बताया कि आरोपित दिलीप को शनिवार सुबह गांव के रेलवे अंडरपास के पास से गिरफ्तार किया गया।

Edited By: Jagran