आगरा, जेएनएन। ग्राम पंचायत चुनाव के नतीजे आने के बाद से लगातार आपराधिक वारदातें हो रही हैं। प्रदेश के अधिकांश जिलों में फायरिंग और मारपीट की घटनएं हो रही हैं। अकेले एटा को ही लें तो एक दिन में तीन से चार जगह रंजिशन वारदाते हो रही हैं। शुक्रवार को एटा के अलीगंज कोतवाली क्षेत्र में चुनाव की रंजिश में हुए हमला व फायरिंग में दो घायल हो गए। इसके अलावा अलग-अलग स्थानों पर हुईं पथराव व हमले की घटनाओं में मां-बेटा समेत तीन जख्मी हुए हैं।गुरुवार शाम ग्राम ढिबैया अख्तियारपुर निवासी हरनाथ सिंह ने पुलिस को बताया कि चुनाव की रंजिश को लेकर गांव के ही अहिवरन सिंह से 5 मई की शाम कहासुनी हो गई। इसके बाद कुल्हाड़ी से हमला कर उसे घायल कर दिया गया। पीड़ित ने जान से मारने के इरादे से फायर करने का भी आरोप लगाया है। वहीं दूसरे पक्ष के अहिवरन के पुत्र बबलू ने लाठी-डंडों से हमला कर घायल कर फायरिंग करने का दूसरे पक्ष के लोगों पर आरोप लगाया है। अलीगंज के इंस्पेक्टर एके सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों की ओर से मामले दर्ज कर लिए गए हैं। दूसरी ओर सकरौली थाना क्षेत्र के ग्राम गहला निवासी राजवती ने गांव के ही तेज सिंह समेत 11 लोगों पर चुनाव की रंजिश में घर में घुसकर पथराव कर घायल करने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई है। वहीं जसरथपुर थाना क्षेत्र के नगला बहादुर में हुए हमले में संजय कुमार और उसकी मां गुड्डी देवी घायल हो गई। घटना की रिपोर्ट संजय ने गांव के ही रामसनेही समेत तीन लोगों के खिलाफ दर्ज कराई है।