आगरा, जागरण संवाददाता। दुनिया के सात अजूबों में शुमार ताजमहल के कद्रदानों में कमी आई है। वर्ष की पहली छमाही में ताज देखने आगरा आने वाले देसी-विदेशी पर्यटकों की संख्या में गिरावट दर्ज की गई। वर्ष 2018 की पहली छमाही की तुलना में वर्ष 2019 की पहली छमाही में करीब 27 हजार विदेशी और 3.24 लाख देसी सैलानी कम आए।

ताजमहल के दीदार को प्रतिवर्ष लाखों देसी-विदेशी सैलानी आगरा आते हैं। वर्ष 2015 से 2018 तक ताज देखने आने वाले विदेशी पर्यटकों की संख्या में निरंतर इजाफा हुआ। वर्ष 2018 में 908722 विदेशी पर्यटकों ने ताज का दीदार किया था। इसके आधे से अधिक पर्यटकों (459397) ने जनवरी से जून तक ताज का दीदार किया था। इस वर्ष इस समयावधि में 431676 विदेशी पर्यटक ताज देखने आए। छह माह में 27721 विदेशी पर्यटक कम आए। वहीं, भारतीय पर्यटकों की बात करें तो वर्ष 2018 की पहली छमाही में 28.26 लाख पर्यटक ताज देखने आए थे। इस वर्ष जनवरी से जून तक 25.02 लाख भारतीय ही ताज देखने आए। करीब 3.24 लाख भारतीय कम आए हैं।

ताजनगरी में विदेशी पर्यटकों के रात्रि प्रवास में वर्ष दर वर्ष आ रही गिरावट से पर्यटन उद्यमियों की परेशानी और बढ़ती नजर आ रही है। आगरा में वर्ष 2018 में केवल 53.82 फीसद पर्यटक यहां रुके थे, जबकि वर्ष 2017 में यह आंकड़ा 57.01 फीसद था।

विदेशी पर्यटकों की स्थिति

माह, 2018, 2019

जनवरी, 95230 , 95718

फरवरी, 112101, 111747

मार्च, 117819 , 108373

अप्रैल, 67774 , 58418

मई, 37676 , 31161

जून, 28797, 26259

कुल, 459397, 431676

देसी पर्यटकों की स्थिति

माह, 2018, 2019

जनवरी, 391364, 465176

फरवरी, 394547, 384153

मार्च, 509355, 492380

अप्रैल, 419949, 327683

मई, 550132, 387013

जून, 560953, 445878

कुल, 2826300, 2502283 

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप