आगरा, जागरण संवाददाता। ताजमहल पर बुधवार को भी सर्वर ने दगा दे दिया। सूर्योदय के समय ताज का दीदार करनेे की ख्‍वाहिश पर्यटकों की अधूरी रह गई। तय समय से करीब आधा घंटे बाद पर्यटकों का प्रवेश ताज में हो सका। पर्यटकों को टर्न स्‍टाइल गेट के नीचे से मैनुअल टिकट चैक कर निकाला गया। इससे पर्यटकों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

नियमानुसार ताजमहल पर सूर्योदय 6:20 बजे से 45 मिनट पूर्व 5:35 बजे टिकट विंडो से टिकट मिलना शुरू होने चाहिए थे, लेकिन ये 5:55 से मिलना शुरू हुए। वहीं सुबह 5:50 बजे से ताजमहल में पर्यटकों को प्रवेश मिलना चाहिए था, लेकिन टर्न स्टाइल गेट बंद होने से 6:20 से प्रवेश मिलना शुरू हुए। टर्न स्टाइल गेट के काम नहीं करने पर पर्यटकों को मैनुअल टिकट चेक कर नीचे से निकाला गया। पूर्वी और पश्चिमी दोनों गेट पर यह स्थिति रही। पर्यटकों की लंबी लाइन लग गई। इससे पूर्व मंगलवार को भी ताजमहल पर यही स्थिति बनी रही थी।

ताजमहल पर मंगलवार को भी सर्वर डाउन होने से टिकट विंडो और टर्न स्टाइल गेट सिस्टम प्रभावित हो गया था। टर्न स्टाइल गेट न खुलने से पर्यटक स्मारक में प्रवेश तो कर ही नहीं पाए, अंदर से भी बाहर नहीं आ पाए थे। हंगामे के बाद भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआइ) ने मैनुअली टिकट चेक कर पर्यटकों को प्रवेश दिया और स्मारक से बाहर निकाला था। बता दें कि ताज के पूर्वी व पश्चिमी गेट पर टर्न स्टाइल गेट लगे हुए हैं। यह सर्वर से संचालित होते हैं।

पुराने हैं टर्न स्टाइल गेट

ताज पर पुरानी तरह के टर्न स्टाइल गेट लगाए गए हैं। टोकन स्कैन करने के बाद गेट पर लगे हैंडल को पर्यटकों को घुमाना पड़ता है, तभी वो स्मारक में प्रवेश कर पाते हैं। जबकि मेट्रो स्टेशन पर टोकन स्कैन करते ही सीधे गेट खुल जाता है।

तब क्या होगा

ताजमहल पर त्योहारों, वीकेंड और अन्य तमाम अवसरों पर पर्यटकों का हुजूम उमड़ता है। अगर इन दिनों सर्वर डाउन हुआ तो हालात काबू करना मुश्किल हो जाएगा। मंगलवार को तो पर्यटकों की भीड़ ज्यादा नहीं थी।

 

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप