आगरा(जेएनएन): राष्ट्रीय लोकदल के पोल खोल धावा बोल आंदोलन की कड़ी में मथुरा जिले में राया विकास खंड के गांव कूम्हा में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे पार्टी उपाध्यक्ष जयंत चौधरी। तय समय से करीब सवा घंटे देरी से पहुंचे पार्टी उपाध्यक्ष का कार्यकर्ताओं ने फूलों की विशाल माला पहनाकर स्वागत किया। इस दौरान मंच पर जिलाध्यक्ष नरेंद्र सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष रामवीर सिंह भरंगर, जयपाल चौधरी, डॉ. अशोक अग्रवाल, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष अनूप चौधरी आदि मौजूद थे। खबर लिखे जाने तक स्वागत की प्रक्रिया चल रही थी। कुछ ही देर में जयंत भाजपा की रीति नीति के खिलाफ मोर्चा खोलेंगे।

रालोद की इस रैली को लेकर राजनीतिक दलों में आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर चर्चा शुरू हो गई है। जनसभा की भीड़ से रालोद को जनाधार का आकलन करने की कोशिश की जाएगी। खासकर बसपा और कांग्रेस की भी नजर टिकी हुई हैं। जयंत चौधरी जनसभा के माध्यम से युवाओं को रालोद के साथ लाने का प्रयास कर रहे हैं। इसके लेकर जनता को भाजपा के राज में हो रहीं हानियों के बारे में बताएंगे। इससे पूर्व रालोद जिलाध्यक्ष कुंवर नरेंद्र ¨सह और युवा राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय महासचिव रामरसपाल पौनिया ने बताया कूम्हा में होने वाली जनसभा में युवा नेता उमेश चौधरी के अगुवाई में दौ सैकड़ा मोटरसाइकिलों से युवा रैली में शामिल हुए। ये राधे कोल्ड स्टोर यमुनापार से रवाना हुए। इसके साथ ही ट्रैक्टर-ट्राली, बस और निजी वाहनों से भी पार्टी कार्यकर्ता अपने साथ रालोद समर्थकों को लेकर पहुंचे।

बता दें रालोद लोकसभा चुनाव को देखते हुए प्रदेश भर में इस तरह की जनसभाएं आयोजित कर रही है। जयंत चौधरी लगातार भाजपा पर जाति और धर्म के आधार पर देश को बांटने का आरोप लगाते रहे हैं। आज होने वाली जनसभा में भी वे भाजपा पर इसी तरह के आरोप लगा सकते हैं। साथ ही देवरिया कांड को लेकर भी योगी सरकार को कठघरे में खड़ा कर सकते हैं। अब देखना ये होगा कि छोटे चौधरी अजीत सिंह के बेटे जयंत का जादू आज जनसभा में कितना चलता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस