आगरा, जागरण संवाददाता। सदर क्षेत्र के नामनेर में रहने वाले सराफा व्यापारी लक्ष्मण प्रसाद अग्रवाल के घर को गुरुवार रात चोरों ने निशाना बना लिया। गैस कटर से घर की कुंडी काटकर घर में घुसे चोर तीन कमरों में रखे सोने-चांदी के गहने और कैश को लेकर गए हैं। व्यापारी ने सदर थाने में तहरीर दे दी है। मगर, अभी उन्होंने चोरी हुए सामान की सूची पुलिस को नहीं दी है।

लक्ष्मण प्रसाद अग्रवाल के भतीजे की गुरुवार को शादी थी। वह अपने बेटे प्रिंस अग्रवाल, प्रमोद अग्रवाल, पत्नी और बहुओं के साथ शादी समारोह में गए थे। गुरुवार रात को वे अपने घर से ताला लगाकर गए थे। प्रथम तल पर भाई अवधेश के हिस्से में भी ताला लगा हुआ था। रात में चोरों ने गैस कटर से सराफा व्यापारी के घर के दरवाजों की कुंडी काट दीं। इसके बाद वे घर में घुस गए।सिर्फ उन कमरों को निशाना बनाया, जिनमें सोना- चांदी के गहने और कैश रखा था। गहने और नकदी समेटकर चोर भाग गए।सराफा व्यापारी को पड़ोसियों के माध्यम से शुक्रवार सुबह घटना की जानकारी हुई। इसके बाद परिवार के लोग पहुंचे। घर के तीन कमरों में सामान बिखरा पड़ा था। चोर घर में रखे सोना-चांदी के गहने और नकदी ले गए। सराफा व्यापारी ने थाना सदर में घटना के संबंध में तहरीर दे दी है। उनके घर से थोड़ी दूरी पर चोरों ने रात में एक और घर को निशाना बनाया, लेकिन वहां से कुछ चोरी नहीं किया। उस घर का गेट सराफा व्यापारी जैसा था। आशंका है कि चोर रेकी करके आए थे। उनको घर के बारे में पूरी जानकारी थी। पुलिस आसपास के घरों के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिंग देखकर सुराग तलाश रही है।

हत्यारोपित के घर से चोरी, पुलिस पर आरोप

हत्या के आरोप में जेल में बंद बल्केश्वर निवासी मान सिंह के घर चोरी हो गई। कमला नगर थाने में मान सिंह की पत्नी रेनू भाटिया ने मुकदमा दर्ज कराया है। रेनू का आरोप है कि पुलिस की लापरवाही से घटना हुई है। पुलिस ने जब परिवार के सदस्यों को जेल भेजा उनके घर पर अपना ताला लगा दिया था। पुलिस को उनके घर की सुरक्षा करनी चाहिए थी। रेनू भाटिया उनके पति मान सिंह, बेटे सिमरन और हरवंश को पुलिस ने जून 2021 में जेल भेजा था। छत पर सामान रखने को लेकर विवाद हुआ था। कांता बलीचा नाम की महिला की हत्या हुई थी। रेनू भाटिया को जमानत मिल गई थी। उनके पति और दो बेटे अभी जेल में है। रेनू भाटिया ने बताया कि वह जमानत के बाद रिश्तेदार के घर रह रही हैं।जब घर पहुंची तो चोरी की जानकारी हुई।

 

Edited By: Prateek Gupta