आगरा, यशपाल चौहान। जगदीशपुरा थाने के मालखाने से 25 लाख रुपये चोरी के मामले में एक सफाईकर्मी पर शक गहरा गया है। वह थाने में सफाई करता था। घटना के बाद से वह अपने घर से गायब है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है। हालांकि अभी तक अधिकारी इस पर खुलकर कुछ भी नहीं बोल रहे हैं। सफाईकर्मी के पकड़े जाने के बाद पुलिस को पर्दाफाश की राह मिल सकती है।

जगदीशपुरा थाने में शनिवार की रात मालखाने में सेंध लगाई गई थी। पिछला दरवाजा और खिड़की तोड़कर मालखाने से 25 लाख रुपये चोरी किए गए थे। रविवार की सुबह घटना की जानकारी हुई थी। एसएसपी ने इंस्पेक्टर अनूप कुमार तिवारी सहित छह पुलिस कर्मियों को निलंबित किया था। घटना की जानकारी के बाद ही यह माना गया था कि वारदात को पेशेवर चोर बिना अंदर के कर्मचारी की मिलीभगत के अंजाम नहीं दे सकता। पुलिस के कुछ मुखबिरों के अलावा सफाई कर्मचारी को भी शक के घेरे में लिया गया था। पुलिस सूत्रों का कहना है कि देर रात पुलिस सफाई कर्मचारी के घर पहुंची। उसका घर खंगाला तो कुछ कैश मिला। अधिकारी अभी इसकी पुष्टि नहीं कर रहे हैं। सफाईकर्मी के बारे में उसके स्वजन से पूछताछ की गई तो वे भी बेखबर थे। उनका कहना था कि सफाईकर्मी कहां गया है? उन्हें इसकी कोई जानकारी नहीं है। वह उन्हें बताकर नहीं गया। रविवार सुबह से ही वह गायब है। सफाई कर्मचारी तीन भाई हैं। दो भाई पुलिस को मिल गए। सफाईकर्मी की तलाश में पुलिस लगातार सभी संभावित स्थानों पर दबिश दे रही है। उसके सामने आने के बाद चोरी की घटना के पर्दाफाश की उम्मीद की जा रही है। एसपी सिटी विकास कुमार का कहना है कि पुलिस की कई टीमें पर्दाफाश के लिए लगाई गई हैं। घटना के संबंध में सुराग तलाशे जा रहे हैं।

Edited By: Prateek Gupta