आगरा, जागरण संवाददाता। दो दिन पहले नाई की मंडी थाने से फरार हुआ हरिद्वार पुलिस का इनामी अभी पुलिस के हाथ नहीं लगा है।उसकी गिरफ्तारी को कई स्थानों पर पुलिस टीम ने दबिश दी, लेकिन वह कहीं नहीं मिला। अब पुलिस उसके करीबियों पर शिकंजा कस रही है।

हरिद्वार के शहर कोतवाली में नाई की मंडी निवासी रवि के खिलाफ पिछले वर्ष किशोरी के अपहरण, दुष्कर्म और पाक्सो एक्ट का मुकदमा दर्ज हुआ था। किशोरी की बरामदगी के बाद उसके कोर्ट में बयान हो चुके हैं, लेकिन आरोपित अभी तक पकड़ा नहीं गया।उस पर हरिद्वार पुलिस ने ढाई हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। हरिद्वार पुलिस के कहने पर नाई की मंडी थाना पुलिस ने उसे शनिवार को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस टीम उसे लेने यहां आ रही थी। इससे पहले ही नाई की मंडी थाने से रविवार तड़के रवि फरार हो गया। इस मामले में पुलिस ने नाई की मंडी थाने में रवि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। लापरवाही पर हेड कांस्टेबल मुकेश कुमार और कुंवर सिंह के साथ होमगार्ड रामबाबू के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। दोनों हेड कांस्टेबल थाने से लाइन भेज दिए गए हैं। उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही की जा रही है। होमगार्ड को थाने से हटाकर कार्रवाई को कमांडेंट होमगार्ड को पत्र भेजा गया है। वहीं आरोपित की गिरफ्तारी के लिए नाई की मंडी थाना पुलिस के साथ एसओजी और सर्विलांस टीम भी लगी हैं। कई स्थानों पर दबिश दी गई, लेकिन आरोपित को सुराग नहीं मिला। उसका पिता पहले से जेल में बंद है। घर में मां और दिव्यांग भाई है। वे उसके बारे में कुछ नहीं बता पा रहे। अब अन्य करीबियों पर शिकंजा कसकर पुलिस रवि की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है।

 

Edited By: Prateek Gupta