आगरा, जागरण संवाददाता। उप्र माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) का परीक्षा परिणाम भले न सुधर पाया हो, लेकिन बोर्ड ने अंकों के साथ पास हुए विद्यार्थियों की अंकतालिका जिलों को भेज दी हैं। शनिवार से शाहगंज स्थित राजकीय इंटर कालेज से उनका वितरित कार्य भी शुरू हो गया। हालांकि बोर्ड ने प्रोन्नत व विद-हेल्ड मामलों की अंकतालिका रोक ली हैं।

आरबीएस इंटर कालेज प्रधानाचार्य डा. यतेंद्र पाल सिंह ने बताया कि उनके यहां हाईस्कूल में 270 में से 268 विद्यार्थियों की अंकतालिका आई हैं, एक-एक मामला विद-हेल्ज और प्रोन्नत का था, उनकी अंकतालिका नहीं आयी। वहीं इंटर में 465 विद्यार्थी थी, जिनमें विद-हेल्ड चार मामले थे, इनमें से एक विद्यार्थी उत्तीर्ण हो गया और प्रोन्नत के 24 मामले हैं, लेकिन इन सभी 28 विद्यार्थियों की अंकतालिका नहीं आई है। इसके साथ कक्षा 11 कृषि विषय के 118 विद्यार्थियों में से एक की भी अंकतालिका अब तक नहीं आई है। अन्य स्कूलों में भी यही हाल है। लोहामंडी स्थित रत्नमुनि जैन इंटर कालेज के प्रधानाचार्य डा.अनिल कुमार वशिष्ठ ने बताया कि उनके यहां के भी विद-हेल्ड और प्रोन्नत विद्यार्थियों की अंकतालिका अन्य विद्यार्थियों के साथ नहीं आई हैं।

विद्यार्थी लगा रहे चक्कर

कुछ विद्यार्थियों की अंकतालिका आ गई है, जबकि बिना अंक प्रोन्नत हुए विद्यार्थियों के साथ विद-हेल्ड मामलों में विद्यार्थियों पर फैसला अब तक नहीं हो सका है। अधिकारियों को भी इसकी अब तक कोई जानकारी नहीं। ऐसे में विद्यार्थी परेशान हैं और उन्हें भविष्य की चिता सता रही है।

45 फीसद स्कूलों ने लीं

जिला विद्यालय निरीक्षक मनोज कुमार ने बताया कि जिले में हाईस्कूल के 904 जबकि इंटरमीडिएट के 464 स्कूल हैं। शनिवार से अंकतालिका वितरण कार्य शुरू हो गया है और पहले दिन करीब 45 फीसद स्कूल अंकतालिका ले गए हैं। शेष स्कूलों को भी संपर्क करके इनका वितरण कराया जाएगा।

Edited By: Jagran