जागरण संवाददाता, आगरा : एडीए के निर्माण विभाग में ई-टेंडरों के खेल को रोकने के लिए व्यवस्था में बदलाव किया गया है। एडीए उपाध्यक्ष ने सचिव हरीराम की अध्यक्षता में चार सदस्यीय कमेटी गठित की है। यह कमेटी टेंडर की शर्तो का परीक्षण करेगी, इसके बाद ही टेंडर जारी होंगे।

एडीए में पिछले दिनों साढ़े 21 करोड़ रुपये के टेंडर जारी हुए थे। टेंडर के विज्ञापन में कार्यो की श्रेणी तय नहीं की गई थी। दैनिक जागरण ने ई-टेंडरों में खेल की खबर प्रकाशित की थी। इस मामले में एडीए उपाध्यक्ष राधेश्याम मिश्रा ने मुख्य अभियंता अजय सिंह को तलब किया। उनसे पूछताछ की तो वे संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। इस पर एडीए उपाध्यक्ष ने टेंडर जारी करने की प्रक्रिया में बदलाव करने के आदेश दिए। अब मुख्य अभियंता अकेले टेंडर जारी नहीं कर सकेंगे बल्कि यह कार्य चार सदस्यीय कमेटी के द्वारा तय किया जाएगा।

एडीए उपाध्यक्ष ने बताया कि कमेटी में सचिव हरीराम, वित्त नियंत्रक रतन कुमार, मुख्य अभियंता अजय सिंह, ओएसडी योगेंद्र कुमार को शामिल किया गया है। कमेटी द्वारा टेंडर की शर्तो का परीक्षण किया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस