आगरा, जागरण टीम। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा शासन ने अंतिम समय पर परीक्षा स्थगित की। प्रदेश के सभी जिलों के केंद्रों पर एक घंटे पहले से ही परीक्षार्थियों की भीड़ पहुंच चुकी थी। अचानक आए शासन के आदेश से परीक्षार्थियों और प्रशासन के अधिकारियों में अफरातफरी मच गइ।  

यूपी शिक्षक पात्रता परीक्षा सभी जिलों में रविवार सुबह दस बजे से शुरू हो गनी थी। लेकिन मथुरा से व्हाट्सएप पर पेपर लीक होने के मामले में परीक्षा को रद्द कर दिया गया। इस मामले में यूपी एसटीएफ ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है। प्रदेश के अलग अलग स्थानों पर एसटीएफ की आठ टीमें दबिश दे रही है। परीक्षा एक महीने बाद दोबारा होगी। अभ्यार्थियों को दोबारा कोइ फीस नहीं देनी होगी। हालाकि मथुरा में परीक्षा में परीक्षार्थी परीक्षा देनी शुरू कर चुके थे लेकिन आदेश के बाद परीक्षा को निरस्त कर दी गइ। आगरा जिले में 65 हजार से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल होने थे। पहली पाली में 80 और दूसरी पाली में 50 केंद्रों पर परीक्षा होनी थी। 

Edited By: Tanu Gupta