आगरा, जागरण संवाददाता। अब तक साड़ियों की दुनिया में अपना अलग रुतबा रखने वाले जार्जेट फैब्रिक ने दूल्हों की शेरवानी में भी कदम रख दिए हैं। गर्मियों में होने वाली शादियों में दूल्हे जार्जेट की शेरवानी में सजेंगे। आगरा रेडीमेड गारमेंट संगठन द्वारा होटल होलीडे इन में लगाए गए समर वेडिंग कलेक्शन व समर कलेक्शन फेयर में नए ट्रेंड के अनुसार निर्माताओं ने कपड़े तैयार करवाए हैं। चार दिवसीय फेयर का समापन 27 जनवरी को होगा।

150 करोड़ के कारोबार का लक्ष्य

संगठन के अध्यक्ष संजीव अग्रवाल ने बताया कि पिछले साल सितंबर माह में लगे विंटर कलेक्शन फेयर में काफी अच्छा व्यापार मिला था। चार दिवसीय फेयर में लगभग 80 गारमेंट निर्माताओं ने हिस्सा लिया था। लगभग 80 करोड़ का कारोबार हुआ था। इस समर कलेक्शन फेयर में 110 गारमेंट निर्माता भाग ले रहे हैं, इस बार संगठन ने 150 करोड़ रुपये के कारोबार का लक्ष्य रखा है। फेयर में जेंट्स गारमेंट के 70, लेडीज गारमेंट के 20 और बच्चों के लगभग 20 गारमेंट निर्माता शिरकत कर रहे हैं।

जार्जेट से बनी शेरवानी है खास

फेयर में कई तरह के नए ट्रेंड प्रदर्शित किए जाएंगे, पर जार्जेट से बनी शेरवानी खास है।निर्माता स्पर्श अग्रवाल ने बताया कि गर्मियों में हल्के कपड़े पसंद किए जाते हैं, जो सुंदर भी लगे और गर्मी भी न लगे। इसलिए पहली बार जार्जेट पर शेरवानी बनाई गई है। इस पर हल्के रंगों के धागे से कढ़ाई की गई है।होलसेल में इसकी कीमत तीन हजार से आठ हजार रुपये तक है।

इंडो वेस्टर्न और नेहरू सूट की है मांग

विंटर कलेक्शन फेयर में भी सबसे ज्यादा मांग इंडो वेस्टर्न और नेहरू सूट की थी। उसी के अनुसार समर कलेक्शन में भी इन दोनों ही ट्रेंड के कपड़े भी प्रदर्शित किए गए हैं। मोदी कोटी की सबसे ज्यादा मांग रही थी, गर्मियों के लिए हल्के फैब्रिक में यह कोटी तैयार करवाई गई है।

प्लस साइज के कपड़े भी है यहां

फेयर में प्लस साइड कपड़े भी खास तौर से प्रदर्शित किए जा रहे हैं। विष्णु अग्रवाल ने बताया कि स्माल और मीडियम से ज्यादा अब डबल एक्सेल और ट्रिपल एक्सेल की मांग रहती है। इसलिए इन साइजों में भी हर डिजायन बनवाया जाता है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021