आगरा, जागरण संवाददाता। डॉ. भीमराव आंबेडकर विवि के दीक्षा समारोह में बेटों से आगे बेटियां होंगी, 80 फीसद पदक बेटियों को दिए जाएंगे। एफएच मेडिकल कॉलेज, एत्मादपुर की एमबीबीएस फाइनल प्रोफेशनल की छात्रा आकांक्षा गोल्डन गर्ल बनेंगी। उन्हें 11 स्वर्ण पदक से सम्मानित किया जाएगा। विवि प्रशासन ने 11 अक्टूबर को होने जा रहे दीक्षा समारोह के लिए पदक विजेताओं की सूची जारी कर दी है।

विवि ने मेडिकल, बीए, बीएससी, एमए, एमएससी, एमकॉम सहित अन्य पाठ्यक्रमों के टॉपर्स की सूची पदकों के साथ जारी की है। इसमें सर्वाधिक 11 स्वर्ण पदक एफएच मेडिकल कॉलेज, एत्मादपुर की एमबीबीएस फाइनल प्रोफेशनल की छात्रा आकांक्षा के नाम दर्ज हैं। वहीं, पांच पदक दो से अधिक छात्रों के नाम दर्ज हैं। इस तरह 124 छात्र-छात्राओं को 108 पदक दिए जाएंगे। छात्राओं को 80 फीसद और छात्रों को 20 फीसद पद मिलेंगे।

पदकों में हो सकता है संशोधन

विवि ने वेबसाइट पर पदकों की सूची जारी की है, इसमें संशोधन हो सकता है। पीआरओ डॉ. गिरजा शंकर शर्मा ने बताया कि पदक सूची पर किसी छात्र छात्रा को आपत्ति है तो वह अपना पक्ष रख सकते हैं। समिति की जांच के बाद पदक सूची में संशोधन किया जा सकता है।

मरीजों की सेवा को डॉक्टर बनी आकांक्षा

गोल्डन गर्ल आकांक्षा सभी लोगों को स्वस्थ देखना चाहती हैं, यह डॉक्टर ही कर सकते हैं। इसी सोच के साथ आकांक्षा ने चिकित्सकीय पेशे को चुना, वे स्त्री रोग विशेषज्ञ बनकर मरीजों की सेवा करना चाहती हैं। देश भर में महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए काम करना चाहती हैं।

एफएच मेडिकल कॉलेज, एत्मादपुर आगरा की एमबीबीएस फाइनल प्रोफेशनल की छात्र आकांक्षा को 11 अक्टूबर को विवि के दीक्षा समारोह में सर्वाधिक 11 स्वर्ण पदक से सम्मानित किया जाएगा। वे मूल रूप से कनीना शहर, महेंद्र गढ़ हरियाणा की रहने वाली हैं, वहां उनके पिता सतवीर सिंह और मां सरला कुमारी दोनों की इंग्लिश के लेक्चरर हैं। छोटा भाई आलोक अमेरिका से एमबीबीएस कर रहा है। उन्होंने बताया कि वे गायनिक एंड ऑब्स में एमएस करना चाहती हैं। इसके बाद महिलाओं के स्वास्थ्य के के लिए काम करेंगी। उन्होंने जीएल पब्लिक स्कूल से हाईस्कूल 9.8 सीजीपीए और इंटर 86 फीसद अंक से उत्तीर्ण किया है।

विवि के दीक्षा समारोह की गोल्डन गर्ल

2019 - आकांक्षा 11 स्वर्ण पदक, एफएच मेडिकल कॉलेज, एत्मादपुर आगरा

2018 - अवणना अग्रवाल 14 पदक रामा मेडिकल कॉलेज, कानपुर

2017 - मथकला अपर्णा आठ पदक, रामा मेडिकल कॉलेज, कानपुर।

आकांक्षा को ये मिलेंगे स्वर्ण पदक

डॉ. शारदा प्रसाद श्रीवास्तव स्वर्ण पदक

आगरा रोटरी क्लब स्वर्ण पदक

अखिल भारतीय महिला परिषद, आगरा शाखा स्वर्ण पदक

डॉ. टुकी राम एल्हेन्स स्वर्ण पदक

कुमारी अमिता सिंहल स्मृति स्वर्ण पदक

श्रीमती तुलसा देवी स्मृति स्वर्ण पदक

वक्ले स्वर्ण पदक

श्रीमती माधुरी देवी श्रीवास्तव स्मृति स्वर्ण पदक

ब्रजनंदन चौबे स्मृति स्वर्ण

प्रो. सुखवीर प्रसाद जैन स्वर्ण पदक

लायंस क्लब आगरा यूनाइटेड

लक्ष्य बनाकर पढ़ें

आकांक्षा के इंटरमीडिएट में 86 फीसद अंक थे, उनका एमबीबीएस में सलेक्शन हो गया। उन्होंने बताया कि लक्ष्य साध लें, उसे ध्यान में रखते हुए मेहनत करें। इंटरमीडिएट में कम अंक आते हैं तो आगे अच्छे अंक नहीं आएंगे, ऐसा नहीं सोचना चाहिए।

एसएन को लगा झटका, निजी कॉलेज की छात्र ने मारी बाजी

विवि के दीक्षा समारोह में एसएन की एमबीबीएस की छात्र गोल्डन गर्ल बनती थी, उन्हें सर्वाधिक मेडल दिए जाते थे। मगर, पिछले चार साल से निजी मेडिकल कॉलेज की छात्रएं गोल्डन गर्ल बन रहीं हैं, इस पर एसएन प्रशासन ने आपत्ति भी की थी। 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस