आगरा, जागरण संवाददाता। सूर सरोवर पक्षी विहार में पर्यटकों को प्रकृति की गोद में सुखद आनंद मिलता है, लेकिन सुविधाओं का यहां अभाव है। पर्यटक लघुशंका के लिए भी जंगल की ओर दौड़ते हैं। उधर, फ्लेमिंगो के अंडे रखे हुए धूल फांक रहे हैं।

आगरा-मथुरा हाईवे स्थित सूर सरोवर पक्षी विहार के द्वार से लेकर और शांता घाट तक पक्षियों की अठखेलियां दीवार और बोर्ड पर नजर आती हैं, जिन्हें देखकर पर्यटक आनंदित होते हैं, लेकिन पर्यटक सूर सरोवर पक्षी विहार के म्यूजियम का आनंद नहीं ले पाते। इस म्यूजियम में एक फ्लेमिंगो की आकृति भी है और उसके दो अंडे रखे हैं। कुछ पक्षियों की जानकारी भी अंकित है। वन अधिकारियों की लापरवाही से सब धूल फांक रहे हैं। पैंगोलिन की आकृति भी क्षतिग्रस्त हो गई है।

शौचालय पर लटका ताला

सरोवर पक्षी विहार में पार्क के पास महिला-पुरुष शौचालय बना है। जिसके द्वार पर हमेशा ताला लटका रहता है। पर्यटक लघुशंका के लिए जंगल का रुख करते हैं। जंगल में बबूल के पेड़ हैं। इनके नीचे बड़े-बड़े कांटे पड़े हैं। वन्यजीव भी घूमते रहते हैं। जिससे पर्यटकों के लिए खतरा है।

गुमटी है शानदार

सरोवर पक्षी विहार के पार्क में गुमटी बनी है, इसमें तीन बेंच पर्यटक के लिए बैठने के लिए लगी हैं। इस शांत वातावरण में बैठकर पढ़ाई भी की जा सकती है। साथ ही प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लेने के लिए ये मुफीद जगह है। रामसर साइट में शामिल होने के बाद अब इस जगह के विकास की उम्‍मीद जागी है।  

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021