आगरा, जागरण संवाददाता। फतेहाबाद रोड पर अभी सुंदरीकरण का कार्य खत्म नहीं हुआ है लेकिन इससे पूर्व करोड़ों रुपये के कार्य मिट्टी में मिल गए। आगरा मेट्रो प्राेजेक्ट की राह में 600 मीटर हिस्से का डक्ट और नाला बाधा बन रहे हैं। उप्र मेट्रो रेल कारपोरेशन की टीम ने तीनों स्टेशनों पर डक्ट और नाले को तोड़ना शुरू कर दिया है। वहीं सर्किट हाउस रोड पर एक साल पूर्व बनी फूलवारी के 50 मीटर के हिस्से को तोड़ा जा रहा है। इस हिस्से में मेट्रो का पहला डिपो बनेगा। यह हिस्सा कमिश्नरी से पीएसी ग्राउंड के बीच का है। डक्ट, नाला और फूलवारी को तोड़ने का कार्य तीन सप्ताह में पूरा हो जाएगा। आगरा स्मार्ट सिटी के एक अधिकारी ने बताया कि ताज पूर्वी गेट, बसई और फतेहाबाद रोड स्टेशन के दो-दो सौ मीटर के दायरे में डक्ट और नाला को तोड़ा जा रहा है।

105 करोड़ रुपये से फतेहाबाद रोड का सुंदरीकरण

आगरा स्मार्ट सिटी प्राेजेक्ट के तहत 105 करोड़ रुपये से फतेहाबाद रोड का सुंदरीकरण किया जा रहा है। कमिश्नरी से लेकर इनर रिंग रोड तक डक्ट और नाला बनाया जा रहा है। डक्ट बनने से खुले में बिजली या फिर टेलीफोन की लाइन नहीं गुजरेगी। नाला बनने से फतेहाबाद रोड पर जलभराव से राहत मिलेगी। अभी तक यह कार्य पूरा नहीं हुआ है।

सर्किट हाउस रोड पर बनी फूलवारी 

आगरा स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत 25 करोड़ रुपये की लागत से सर्किट हाउस रोड पर फूलवारी बनाई गई है। पीएसी ग्राउंड में मेट्रो का पहला डिपो बन रहा है। कमिश्नरी की सात हेक्टेअर जमीन ली जा रही है। इसमें सर्किट हाउस रोड की एक लेन का आधा हिस्सा भी जा रहा है। इस हिस्से पर बाउंड्रीवाल बनाई जाएगी।

प्लानिंग रही फेल, करोड़ों रुपये का नुकसान

फतेहाबाद रोड पर अफसरों की प्लानिंग पूरी तरह से फेल रही है। आगरा स्मार्ट सिटी के तहत पहले कार्य करा दिए गए और अब डिवाइडर के ठीक ऊपर से होकर मेट्रो ट्रैक गुजरेगा। ऐसे में करोड़ों रुपये मिट्टी में मिल गए हैं। 

Edited By: Tanu Gupta