आगरा, जागरण संवाददाता। ताजनगरी में फैले प्रदूषण का असर सभी पर हो रहा है। बच्चे भी खतरे के घेरे में स्कूल जा रहे हैं। पिछले दिनों के एक्यूआइ लेवल को देखते हुए शहर की तीनों स्कूल एसोसिएशन ने स्कूलों के लिए जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

पिछले दिनों एक्यूआई लेवल ने रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। प्रदूषण से बीमारियां लोगों को घेर रही हैं। सबसे ज्यादा असर सुबह के समय देखा गया है। इसी के मद्देनजर स्कूलों की एसोसिएशन ने शहर के स्कूलों को निर्देश जारी किए हैं कि वे छोटे बच्चों की छुïट्टी भी कर सकते हैं। इसमें नर्सरी, एलकेजी व यूकेजी शामिल हैं। इसके अलावा बच्चों को मास्क लगाना भी सिखाया जाएगा। निर्देशित किया गया है कि स्कूल के आस-पास कूड़ा न जलाया जाए। अगर कहीं ऐसा हो रहा है तो उस क्षेत्र में जागरूकता फैलाएं और नगर निगम में शिकायत करके कूड़े को हटवा दें।

ये भी पढ़ें

नप्सा के सचिव राजपाल सिंह सोलंकी ने बताया कि हमारी एसोसिएशन से 71 स्कूल जुड़े हुए हैं। हर स्कूल में बच्चों को जागरूक किया गया है कि अलाव व कूड़ा न जलाएं। इस संबंध में प्रदर्शनी भी लगाई गई थी। प्रधानाचार्यों की बैठक में डॉक्टरों से बात कराई गई थी। अप्सा के अध्यक्ष डा. सुशील गुप्ता ने बताया कि हमारी एसोसिएशन से 44 स्कूल जुड़े हैं। हमने हर स्कूल को निर्देशित किया है कि हर बच्चे की विंटर यूनीफॉर्म अनिवार्य कर दी जाए। साथ ही मास्क लगाने का तरीका भी सिखाने को कहा है, जिससे जरूरत पडऩे पर बच्चे स्कूल मास्क लगाकर आएं। वॉयस ऑफ स्कूल एसोसिएशन से 60 स्कूल जुड़े हैं। अध्यक्ष डा. राहुल राज व स्टेट सेक्रेटरी डा. अतुल कुलश्रेष्ठ ने निर्देश जारी किए हैं कि अभिभावक बच्चों को अपने निजी वाहन से छोडऩे की बजाय स्कूलों के वाहन की मदद लें। शिक्षक भी स्कूल वाहन का इस्तेमाल करें। जो बच्चा स्कूल परिसर में कूड़ा फैलाता पाया जाएगा, उस पर जुर्माना लगाया जाएगा। 

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप