आगरा, जागरण संवाददाता। कोरोना काल में तमाम दुश्वारियों के बीच महंगाई सितम ढा रही है। महामारी की दूसरी लहर के बाद से अनाज के भाव में अप्रत्याशित बढ़ोतरी हुई है। दाल की कीमतें एक माह से लगातार सुर्खियों में है। एक माह पूर्व अरहर की दाल 95 से 100 रुपये के बीच थी जो एकाएक 120 रुपये किलो पहुंच गई। इसी तरह मसूर और मूंग की दाल में भी बढ़ोतरी हुई है। इस समय सभी प्रकार की दालों की कीमत बढ़ी है। सब्जियों का राजा आलू जरूर प्रजापालक बन गया है। बाजार में आलू का फुटकर भाव 12 से 15 रुपए प्रति किलो चल रहा है। टमाटर के रेट भी राहत भरे हैं। अच्छा टमाटर 10 रुपए प्रति किलो आसानी से मिल रहा है। मजदूरी पेशा लोग फिलहाल आलू टमाटर की रसेदार सब्जी बनाकर दाल के विकल्प के रूप में सेवन कर रहे हैं।

कोरोना के बीच महंगाई की बीमारी का मीटर भी जबरदस्त उछल रहा है। दालें 20 से 30 रुपए प्रति किलो महंगी हो गई हैं। गृहणियों को बजट संभालना मुश्किल हो गया है। आवास व‍िकास कालोनी की सर‍िता, कमला नगर की पुष्‍पा, बेलनगंज की राखी कहती हैं कि इन दिन दोहरा संकट झेलना पड़ा रहा है। लाकडाउन के चलते परिवार की आय घट गई है। ऊपर से महंगाई बढ़ती ही जा रही है। समझ में नहीं आ रहा है कि बजट को कैसे संभाला जाए। बेलनगंंज मे दाल कारोबारी संजय बंसल व कमला नगर क‍िराना स्‍टोर के प्रदीप की माने तो उरद, मूंग व मसूर के रेट भी आसमान छू रहे हैं। दालों के विकल्प के तौर पर सब्जियों का इस्तेमाल बढ़ गया है।

आलू, प्‍याज-टमाटर से मिल रही राहत

बाजार में आलू का फुटकर भाव 15 से 20 रुपए प्रति किलो चल रहा है जबक‍ि स‍िकंदरा फल एंव सब्‍जी मंडी मे आलू आठ से दस रूपये प्रत‍ि क‍िलो म‍िल रहा है। प्‍याज भी का भी कमोवश यही भाव है। टमाटर के रेट भी राहत भरे हैं। फुटकर अच्छा टमाटर 10 रुपए प्रति किलो आसानी से मिल रहा है जबक‍ि थोक मंडी मे टमाटर पांच रुपये प्रत‍ि क‍िलो म‍िल रहा है। मजदूरी पेशा लोग फिलहाल आलू टमाटर की रसेदार सब्जी बनाकर दाल के विकल्प के रूप में सेवन कर रहे हैं।

केवल आगरा में 800 करोड़ का सालाना कारोबार

आगरा में दाल का 800 करोड़ का सालाना कारोबार है और आसपास के जिलों में दाल की आपूर्ति यहीं से होती है। मोतीगंज के अलावा बेलनगंज, रावत पाडा में भी दाल का बाजार है। किराना कारोबारी मोह‍ित ने बताया क‍ि एक माह पूर्व अरहर की दाल 95 से 100 रुपये के बीच थी जो एकाएक 120 रुपये किलो पहुंच गई। इसी तरह मसूर और मूंग की दाल में भी बढ़ोतरी हुई है। इस समय सभी प्रकार की दालों की कीमत बढ़ी है।

भोजन में दाल भी जरूरी

कोरोना काल में इम्युनिटी को बनाए रखना जरूरी है। इम्युनिटी बनाए रखने के लिए प्रोटीन जरूरी है। डा कव‍िता बताती है क‍ि शाकाहारी भोजन में दालें प्रोटीन का प्रमुख स्रोत हैं। इसलिए भोजन में कोई न कोई दाल अवश्य लें। अरहर, उरद व मूंग की दाल अगर पहुंच मेें न हो तो चना व मटर की दाल का सेवन करें। इनसे भी सेहत को बनाए रखने भर को प्रोटीन मिल जाएगी। उन्होंने कहा, मांस और अंडा में भी पर्याप्त प्रोटीन रहता है, लेकिन संक्रमण के दौर में मांसाहार से दूरी बनाए रखना श्रेयस्कर है।

दाल 27 अप्रैल 27 मई

अरहर 95-100 120

चना 75- 78 85

मसूर 76-80 84

मूंग 120-125 140

उड़द 115- 125 135

नोट : दाल की क्वालिटी के हिसाब से कीमत ज्यादा या कम हो सकती है। भाव प्रत‍ि क‍िलो के फुटकर में है। 

Edited By: Tanu Gupta