आगरा, जागरण संवाददाता। सुबह बादल छाने के बाद शनिवार दोपहर में हल्‍की तो कहीं तेज बारिश हुई। देहात में कई स्थानों पर जमकर ओले पड़े, इससे अधिकतम तापमान सात डिग्री नीचे पहुंच गया। वहीं, न्यूनतम तापमान में बढ़ोत्तरी दर्ज हुई है। शनिवार रात तक तक आसपास के क्षेत्रों में ओलावृष्टि जारी रही। खेतों में रही बची फसल भी बिछ जाने से किसानों के आंसू थम नहीं रहे हैं।

मौसम का मिजाज लगातार बदल रहा है। शनिवार सुबह से बादल छाने के साथ तेज हवा चलती रही। दोपहर में कुछ देर के लिए धूप निकली, इसके बाद बादल छा गए। दोपहर 3.30 बजे बादल छाने के साथ भगवान टॉकीज, हरीपर्वत, दयालबाग, कमला नगर सहित अधिकांश क्षेत्रों में 10 से 15 मिनट तक तेज बारिश हुई। वहीं, देहात में खंदौली, बरहन, एत्मादपुर, फतेहाबाद में 15 से 20 मिनट तक ओले गिरे। इससे ठंडक बढ़ गई। रात को तेज सर्द हवा चली। इससे अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री कम 24.5 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं, न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 17.3 डिग्री रहा। वहीं, 1.5 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई। अधिकतम आद्र्रता 96 फीसद दर्ज की गई।

रविवार को छा सकते हैं बादल, 16 से निकलेगी धूप

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि रविवार को बादल छा सकते हैं, बारिश भी हो सकती है। मगर, 16 मार्च से बादल छट जाएंगे और तेज धूप निकलेगी, इससे अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोत्तरी होगी।

30 डिग्री पारा पहुंचने से पड़े ओले

दयालबाग शिक्षण संस्थान के पर्यावरण वैज्ञानिक डॉ. रंजीत कुमार ने बताया कि अप्रैल में 30 डिग्री तक तापमान पहुंचता है। मगर, मार्च में ही 30 डिग्री तक तापमान पहुंच गया है। इससे सतह पर मौजूद पानी वाष्प बनने लगा है, यह हवा से हल्का होता है। इसलिए सतह से 18 से 20 किलोमीटर ऊपर पहुंच गया, इस दूरी के बाद तापमान बहुत कम हो जाता है। यह वाष्प छोटे छोटे टुकड़े में बर्फ में बदल गई, इससे बादल छाने लगे। यह ओले के रुप में गिर रहे हैं, साथ में बारिश हो रही है। इस तरह का मौसम होली बाद तक रह सकता है।  

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस