आगरा, जेएनएन। शुक्रवार को न्यू टूंडला रेलवे स्टेशन पर फ्रेट कॉरिडोर का निरीक्षण करने पहुंचे रेल राज्य मंत्री सुरेश आंगड़ी ने कहा कि देश में बनाए जा रहे फ्रेट कॉरिडोर से देश की इकोनॉमी बढ़ेगी। इसे 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि महिलाओं के लिए ट्रेन में पिंक कोच लगाए जाने की तैयारी है।

शुक्रवार को इटावा से टूंडला तक रेलवे सैलून से ईस्टर्न फ्रेट कॉरिडोर का निरीक्षण करते हुए दोपहर में टूंडला न्यू स्टेशन पहुंचे। इसके बाद उन्होंने के साथ पैदल ट्रैक का निरीक्षण किया और उससे संबंधित जानकारियां लीं। इसके बाद स्टेशन पर पत्रकारों से बातचीत में रेल राज्यमंत्री ने बताया कि फ्रेट कॉरिडोर ईस्टर्न और वेस्टर्न दो भागों में तैयार हो रहा हैं। सड़क मार्ग से अभी तक होने वाले ट्रांसपोर्ट पर 14 से 15 फीसद तक खर्च आता है लेकिन माल कॉरिडोर तैयार होने के बाद मालगाड़ी द्वारा उसी माल पर दो से पांच फीसद भाड़ा लगाकर उसे आसानी से एक स्थान से दूसरे स्थान तक कम समय में पहुंचाया जा सकेगा। उन्होंने बताया कि फ्रेट कॉरिडोर शुरू होने के बाद यात्री गाडिय़ों के लिए मैन लाइन पर दबाव कम होगा, जिससे यात्री ट्रेनों को समय से चलाया जा सकेगा। इसके साथ ही 20 से 25 पैसेंजर ट्रेन बढ़ाई जाएंगी। रेल राज्यमंत्री ने बताया कि 2022 तक कॉरिडोर का काम पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इसका उद् घाटन प्रधानमंत्री करेंगे। मालगाडिय़ां इस ट्रैक पर 80 किलोमीटर तक की रफ्तार से चलेंगी। ट्रेनों से महिला कोच हटाए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि हम प्रयास कर रहे हैं कि महिलाओं के लिए पिंक कोच लगाएं। इसमें महिलाओं के लिए अतिरिक्त सुविधाएं रहेंगे। इसके लिए वार्ता चल रही है।

आरपीएफ में आएंगी महिलाएं

महिला सुरक्षा को लेकर उन्होंने कहा कि आरपीएफ में महिलाओं की संख्या बढ़ाए जाने पर जोर दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री का सपना है कि हर क्षेत्र में महिलाओं की भागेदारी भी बढ़ाई जाए। इसके लिए इंटरव्यू शुरू हो चुके हैं। रेल राज्य मंत्री ने कहा कि गांव के अंत तक योजना का लाभ देने के लिए मोदी सरकार का केवल एक ही सपना है। वह गांव गरीब और किसान है। गांव के आखिरी व्यक्ति तक योजना का लाभ मिल सके।

यात्रियों की बढ़ेगी सुरक्षा व्यवस्था

उन्होंने बताया कि ट्रेनों में यात्रियों की सुरक्षा बढ़ाए जाने के लिए आरपीएफ और जीआरपी के जवानों को बढ़ाया जाएगा। ट्रेन में सफर करने वाले यात्री अपने आप को सुरक्षित महसूस कर सकें। इसके लिए सुरक्षा को मजबूत किया जाएगा। सुरक्षा को लेकर उन्होंने कहा कि सार्वजनिक यात्रियों की भी जिम्मेदारी है कि वह घटना होने पर पुलिस को अवगत कराएं।  

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस