आगरा, जागरण संवाददाता। विधानसभा चुनाव नजदीक प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) भी सक्रिय हो गई है।महंगाई को मुद्दा बनाकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने की तैयारी है। इसके साथ ही शहर से जुड़ी जनसमस्याओं को भी उठाया जाएगा। इनको लेकर दो अगस्त से विरोध प्रदर्शनों की शुरुआत होने जा रही है। पहले नगर निगम का घेराव होगा। इसके बाद अन्य स्थलों पर धरना-प्रदर्शन होंगे।

प्रसपा लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष नितिन कोहली ने कहा है कि महंगाई चरम पर है। आम आदमी के घर का बजट बिगड़ गया है। खाद्य सामग्री के दाम असमान पर है। पेट्रोल-डीजल के दामों में आग लगी हुई है। आर्थिक रूम से कमजोर लोगों के सामने संकट और गहराता जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार का इन मूलभूत परेशानियों की तरफ ध्यान ही नहीं है। आम आदमी की पीड़ा को नजरअंदाज किया जा रहा है।इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार ने गड्ढा मुक्त सड़कें करने का दावा किया था। हकीकत में ऐसा नहीं हुआ है। बारिश के दिनों में जगह-जगह जलभराव हो रहा है। न सड़कों के गड्ढे भरे गए हैं और न ही नालों की सफाई की गई है। बड़े व गहरे नालों के किनारे अवरोध भी नहीं लगाए गए। इसी का नतीजा रहा है कि पिछले दिनों आगरा में एक युवक बाइक सहित नाले में जा गिरा। कूड़ा घोटाले में अब तक किसी के खिलाफ कार्रवाई नहीं हो सकी है। जनप्रतिनिधियों के यहां भी लोगों की सुनाई नहीं हो रही है। कहा कि दो अगस्त को होने वाले धरना-प्रदर्शन का मुख्य उद्देश्य लोगों की समस्याओं को दूर करना है। 

Edited By: Tanu Gupta