आगरा, जागरण संवाददाता। ताजनगरी में चंद दिन तक राहत रहने के बाद प्रदूषण का स्‍तर बढ़ गया है। बुधवार को केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की रिपोर्ट के अनुसार एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) 112 दर्ज किया गया। पिछले तीन दिनों की तुलना में यह काफी ज्यादा रहा। इससे अस्थमा रोगियों को परेशानी हुई। इधर गुरुवार को भी देर तक धुंध छाई रही।

दीपावली पर फिजां में आतिशबाजी का जहर घुलने के बाद वायु प्रदूषण बढ़ गया था। दिल्ली व एनसीआर की तरफ से हवाओं के साथ बहकर आए धूल के कणों ने आगरा की हवा को खराब कर दिया था। शनिवार से इसमें सुधार होना शुरू हुआ था, जो मंगलवार तक जारी रहा। संजय प्लेस स्थित ऑटोमेटिक मॉनीटरिंग स्टेशन पर एकत्र आंकड़ों के अनुसार बुधवार को आगरा में एक्यूआइ 112 दर्ज किया गया। यह सोमवार के 66 और मंगलवार के 68 एक्यूआइ से ज्‍यादा रहा। शनिवार से हवा चलने की वजह से आगरा में एक्यूआइ में निरंतर सुधार हुआ था। सीपीसीबी की गाइडलाइन के अनुसार एक्यूआइ 0-50 तक रहने पर वायु गुणवत्ता अच्छी और 51-100 तक रहने पर संतोषजनक मानी जाती है।

तापमान में दर्ज हो रही गिरावट

शहर के तापमान में भी लगातार गिरावट आ रही है। बुधवार रात को सर्द हवा चली। इससे तापमान में गिरावट आई है। न्यूनतम तापमान 13 डिग्री से नीचे पहुंच गया। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि अब जल्‍द ही कोहरा भी छाएगा। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि आने वाले दिनों में अधिकतम तापमान 25 से 28 डिग्री के बीच रहेगा। वहीं, न्यूनतम तापमान 13 डिग्री तक रहेगा।

 

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस