आगरा, जागरण संवाददाता। सर्दी जुकाम से पीडि़त बच्चों को पुडिय़ा में टीबी की दवा देने वाले झोलाछाप और मेडिकल स्टोर संचालक पर मुकदमा दर्ज होगा। इसके लिए सोमवार को एसएसपी को तहरीर भेजी गई। स्वास्थ्य विभाग की टीम झोलाछाप के क्लीनिक को सील करेगी, औषधि विभाग की टीम द्वारा मेडिकल स्टोर पर कार्रवाई की जाएगी। 

जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. यूबी सिंह ने सोमवार को झोलाछाप एके सरकार, नगला लटूर सिंह, देवरी रोड पर छापा मारा था। टीम ने झोलाछाप को टीबी की आरसीनेक्स सहित अन्य दवाएं पीस कर पुडिय़ा में देते हुए पकड़ा था। इसके बगल में ही नव जीवन मेडिकल स्टोर संचालित था, संचालक धर्मेंद्र पाल से टीबी की दवाओं के रिकॉर्ड की जानकारी मांगी। वह रजिस्ट्रर नहीं दिखा सका। इस मामले में जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. यूबी सिंह ने गजट अधिनियम 269, 270 के तहत झोलाछाप एके सरकार और मेडिकल स्टोर संचालक धर्मेंद्र पाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए एसएसपी को पोस्ट से तहरीर भेजी है। सीएमओ डॉ. मुकेश वत्स ने बताया कि टीम को भेज कर झोलाछाप क्लीनिक को सील कराया जाएगा।

टीबी की दवाओं का दुरुपयोग कर रहे झोलाछाप

झोलाछाप द्वारा बड़े स्तर पर टीबी की दवाओं का दुरुपयोग किया जा रहा है। पहले भी छापे में सर्दी जुकाम के मरीजों में जांच कराए बिना ही 10 से 15 दिन के लिए टीबी की दवाएं देते हुए झोलाछाप पकड़े जा चुके हैं। इससे टीबी घातक होती जा रही है।  

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस