आगरा, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण काल में एक ओर खाकी वाले मानवता की मिसाल पेश कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर कुछ खाकी वाले पब्लिक से मारपीट और अभद्रता करके दाग लगा रहे हैं। पेट्रोल पंप मालिक से अभद्रता करने के मामले में एसएसपी ने शुक्रवार को एक चौकी प्रभारी को निलंबित कर दिया। चार दिन पहले एत्मादपुर में महिलाओं और दुकानदारों को डंडे से पीटने वाले दारोगा का शनिवार को निलंबन हो सकता है। घटना के बाद उन्हें लाइन हाजिर किया गया था।

पश्चिम पुरी निवासी पराग जादौन और पार्श्वनाथ पंचवटी कालोनी निवासी सनी खन्ना का पंचकुइयां चौराहा के पास पेट्रोल पंप है। पराग के अनुसार, गुरुवार रात 11.30 बजे गोकुलपुरा चौकी प्रभारी कपिल नैन उनके पेट्रोल पंप पर पहुंचे। हाथ में सिगरेट और लाइटर लेकर पहुंचे थे। सेल्समैन ने टोक दिया तो अभद्रता और गाली गलौज की। काफी देर तक पेट्रोल पंप पर हंगामा किया। चार-पांच पुलिसकर्मी बुला लिए। इसके बाद सभी के नाम नोट कराए और सभी को जेल भेजने के धमकी दी। पेट्रोल पंप कर्मचारियों ने इसकी जानकारी सनी को दी। उन्होंने चौकी प्रभारी को काल की तो वह गाली गलौज करने लगे।रात में ही सीओ लोहामंडी और इंस्पेक्टर लोहामंडी मौके पर पहुंचे। उन्होंने चौकी प्रभारी को काल करके बुलाया। मगर, पत्नी की तबियत खराब होने की बात कहकर वे नहीं आए। शुक्रवार को दारोगा और सनी से बातचीत की आडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गई। इसके बाद एसएसपी ने मामले की जांच सीओ लोहामंडी को दी। इसके बाद भी चौकी प्रभारी अपना पक्ष रखने सीओ कार्यालय में नहीं पहुंचे।एसएसपी मुनिराज जी ने बताया कि एसआइ कपिल नैन ने पेट्रोल पंप पर सेल्समैन और फोन पर मालिक से गाली गलौज और अभद्रता की थी। जांच में वे अपने बयान दर्ज कराने नहीं आए। इसलिए एसआइ कपिल नैन को निलंबित कर दिया गया है। विभागीय जांच कराई जा रही है। उधर, चार मई को एत्मादपुर थाने में तैनात प्रशिक्षु दारोगा अंकुर राठी ने महिलाओं और व्यापारियों को डंडे से पीटा था। इसके बाद एसएसपी मुनिराज जी ने उन्हें लाइन हाजिर कर दिया। एसएसपी का कहना है कि रिपोर्ट आने पर दारोगा को निलंबित किया जाएगा। 

Edited By: Tanu Gupta