आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा के पहले पुलिस आयुक्त का दायित्व संभालने के साथ ही डा. प्रीतिंदर सिंह ने अधीनस्थों से अपनी प्राथमिकता स्पष्ट कर दी है। यातायात व्यवस्था में सुधार और सड़कों पर अनुशासन दिखाई देने की दिशा में पुलिस जल्दी काम शुरू करेगी। पहला प्रहार अतिक्रमण पर किया जाएगा। चौराहों और सड़कों पर ठेल व फड़ नहीं लगेंगी, फुटपाथ को भी खाली कराया जाएगा। अवैध पार्किंग नहीं चलेगी, अवैध ईंट, बालू की मंडी नहीं लगेगी।

ये भी पढ़ें...

Mainpuri: डिंपल के समर्थक को आए केसी त्यागी, बोले- बहू का प्रचार कर रहे इसलिए जांच, अब छिनेगा शिवपाल से आवास

पुलिस कमिश्नर ने एसपी और सीओ संग की बैठक

पुलिस आयुक्त डा. प्रीतिंदर सिंह ने मंगलवार को दायित्व संभालने के बाद सभी एसपी और सीओ की बैठक बुलाई। उन्होंनेन कहा कि शहर में यातायात प्रमुख समस्या है। लोग जाम में फंसते हैं, यातायात पुलिस पर सवाल उठाते हैं। देशी-विदेशी पर्यटक आते हैं, जाम और अतिक्रमण से आगरा की अच्छी छवि लेकर नहीं जाते। सड़कों पर बेहतर यातायात व्यवस्था देने का प्रयास करना होगा।

ये भी पढ़ें...

Banke Bihari: दर्शन बढ़ाने का मामला फिर लटका, पुराने समय पर ही खुलेंगे ठा. बांकेबिहारी के पट

पुलिस कमिश्नर ने जाम से निपटने के लिए बनाई योजना

जाम के मुख्य कारण अतिक्रमण, फुटपाथों पर कब्जा, चौराहों और सड़कों पर फड़-ठेल व अवैध पार्किंग स्टैंड हैं। जिसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ठेल व फड़ वालों के लिए वेडिंग जाेन बनाने की योजना है, जिससे कि उनका भी रोजगार न छिने। वह व्यवस्थित तरीके से चले।जाम का किस समय लगता हे, उसका क्या कारण है, इन समस्याओं का स्थाई समाधान करना होगा।

सिकंदरा और हरीपर्वत थाने का निरीक्षण

पुलिस आयुक्त ने बुधवार की शाम को सिकंदरा और हरीपर्वत थाने का निरीक्षण किया। अधीनस्थों से मुलाकात कर उनकी समस्याअों पर बातचीत की। उन्होंने थानों की साफ-सफाई और रिकार्ड के रख रखाव को देखा। अधीनस्थों को दिशा-निर्देश दिए। 

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट