आगरा, जागरण्‍ा संवाददाता। नागरिकता संशोधन कानून(सीएए) को लेकर बवाल के बाद जोन में हाई अलर्ट कर दिया गया है। बुधवार को ड्रोन से संवदेनशील क्षेत्रों की निगरानी रखी जाएगी। फिलहाल जोन की साइबर सेल सोशल मीडिया पर भी नजर रख रही है। मिश्रित आबादी वाले इलाकों में सतर्कता बढ़ाते हुए वहां फोर्स तैनात किया गया है। एडीजी अजय आनंद ने अलीगढ़ में जमे हैैं।

अलीगढ़ में सीएए के विरोध में दो महीने पहले बवाल हुआ था। पुलिस द्वारा स्थिति को नियंत्रण करने के बाद हालात सामान्य हो गए थे। रविवार को अलीगढ़ के उपर कोट इलाके में फैली अफवाह के बाद फिर बवाल हो गया है। इस घटना के बाद आगरा समेत जोन के अन्य जिलों में हाई अलर्ट कर दिया गया है। शहर के मिश्रित आबादी वाले कई इलाकों में अधिकारियों ने सतर्कता बढ़ा दी है। निगरानी सेल भी सक्रिय हो गया है। वह सोशल मीडिया में दिल्ली और अलीगढ़ बवाल से संबंधित पोस्ट पर विशेष निगरानी रखी जा रही है। ऐसे लोगों की सूची तैयार की जा रही है।

इन क्षेत्रों में अधिक सतर्कता

आगरा के मंटोला, लोहामंडी, ताजगंज, सदर क्षेत्र के मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में पुलिस फोर्स सक्रिय है। पूर्व में क्षेत्र के जिन लोगों ने पुलिस का सहयोग किया था वे इस बार भी सहयोग कर रहे हैं। पुलिस जल्‍द ही मोहल्‍ला मीटिंग शुरु करेगी, ताकि लोगों काेे भ्रमित होने से रोका जा सके।

पूरी तैयारी ड्यूटी कर रही पुलिस 

त्‍योहार का माहौल और अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की विजिट के चलते आगरा पहले ही छावनी बना हुआ था। अब सीएए के विरोध की आग कहीं ताजनगरी की फिजा न खराब कर दे इसे देखते हुए भी पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद कर दी गई हैं। पुलिस पूरी तैयारी के साथ गश्‍त कर रही है। हर तरफ नजर रखी जा रही है कि विरोध तत्‍व किसी भी तरह की प्‍लानिंग न कर सकें।  

अफवाह फैलाने वाले के खिलाफ होगी कार्रवाई

अलीगढ की घटना के मद्देनजर जोन के सभी जिलों में अलर्ट कर दिया गया है। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है।

अजय आनंद,एडीजी जोन  

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस