आगरा, अमित दीक्षित। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की सुरक्षा अभेद्य होगी। अंदरुनी सुरक्षा घेरा अमेरिकी टीम के पास होगा, जबकि बाहरी घेरे में एनएसजी सहित अन्य शामिल हैं। सुरक्षा के मद्देनजर 12 घंटे तक पेंटागन (अमेरिका) से वीआइपी रूट (एयरफोर्स स्टेशन से ताज पूर्वी गेट) को कंट्रोल किया जाएगा। वीआइपी रूट से एमजी रोड, ईदगाह, सदर, सर्किट हाउस सहित अन्य संपर्क मार्ग भी जुड़े हैं। इनकी निगरानी का जिम्मा पेंटागन के पास होगा।

स्थानीय पुलिस-प्रशासन के अफसरों की ड्यूटी का चार्ट भी अमेरिकी टीम के पास होगा। अमेरिकी राष्ट्रपति की तैयारियों को लेकर शुक्रवार सुबह 11 बजे से खेरिया एयरपोर्ट में एडवांस सिक्योरिटी लाइजन (एएसएल) बैठक हुई। यह बैठक साढ़े तीन घंटे तक चली, जिसमें ट्रंप के आगमन का ब्लू प्रिंट तैयार किया गया। अफसरों ने बताया कि 10 कंपनी पैरा मिलिट्री फोर्स और इतनी ही पीएसी यहां पहुंच चुकी है। वीआइपी रूट सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में होगा। इसके दो कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। इस पर अमेरिकी अफसरों ने प्रेजेंटेशन दिखाने को कहा, स्थानीय अफसरों ने प्लान दिखाया। सुरक्षा से जुड़े कई बिंदुओं में बदलाव पर भी जोर दिया गया। एयरफोर्स स्टेशन में कितने लोगों को प्रवेश मिलेगा? इसे लेकर भी चर्चा हुई लेकिन इनके नाम नहीं खोले गए। यहां तक यह लोग किस तरीके से खड़े होंगे, यह भी तय किया गया।

उधर, मंडलायुक्त अनिल कुमार, डीएम प्रभु एन. सिंह, एसएसपी बबलू कुमार सहित अन्य अफसरों ने वीआइपी रूट का निरीक्षण किया। विभिन्न कार्यों को तेजी से पूरा करने के आदेश दिए।

दो दिन चलेगी रिहर्सल

अमेरिका की एडवांस टीम, पुलिस-प्रशासन के अफसर शनिवार और रविवार को वीआइपी रूट पर रिहर्सल करेंगे। शुक्रवार रात तक इनकी तैयारियां पूरी कर ली गईं। रिहर्सल में किस तरीके से वाहन होंगे, इसे तय किया जाएगा। फिलहाल राष्ट्रपति के काफिले में 70 के करीब वाहन शामिल होंगे, जिसमें दर्जनभर से अधिक अमेरिकी वाहन होंगे। वहीं बाइक सवार भी होंगे।

 

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस