आगरा, जागरण संवाददाता। जिले की हर निकाय व ग्राम पंचायत में एक एक अमृत महोत्सव उद्यान की स्थापना की जायेगी।जिला प्रशासन इसकी रूपरेखा तैयार कर रहा है। हर उद्यान में फलदार, छायादार व औषधीय गुणों से भरपूर 75-75 पौधे लगाए जाएंगे। वहीं उद्यानों का नाम स्वंतत्रता सैनानियों व उत्कृष्ट पुरस्कार से सम्मानित लोगों के नाम पर रखा जायेगा। पौधे रोपित का लक्ष्य शत प्रतिशत पूरा किया जाना है।

जिले में 690 ग्राम पंचायतों में एक एक उद्यान स्थापित होगा इसके साथ ही जिले में पांच नगरपालिका एवं सात नगर पंचायत मे भी ग्राम पंचायतों की तरह एक एक अमृत उद्यान बनाया जायेगा। इन अमृत उद्यानों की देखरेख एवं प्रबंधन का जिम्मा संबंधित ग्राम पंचायतों एवं नगर पंचायतों एवं नगर पालिका परिषद का होगा।पांच वर्षों तक समुचित देखभाल के साथ ही पौधा की सुरक्षा के लिए आवश्यक इंतजाम भी किये जायेंगे।उद्यानों को बनाने के लिए संबंधित विभाग के चयन आदि से लेकर पौधरोपण की तैयारियां कर रहे हैं। इसमें उद्यान का नामकरण स्वंतत्रता सैनानी, विशिष्ट पुरस्कार से सम्मानित व्यक्तियों के नाम पर किया जायेगा। इस उद्यान को सामुदायिक, सरकारी जमीन, अर्ध्दसरकारी भवनों के परिसरों अथवा शहरों में अवस्थित उद्यानों मे होगा। साथ ही वहां बैठने ,पैदल मार्ग व पेयजल की व्यवस्था की जायोगी।

इन प्रजातियों के लगेंगे पौधे

बरगद, पीपल, गूलर, नीम, आम, बेल, सहजन, आंवला, जामुन, शीशम, इमली आदि के पौधे रोपित किये जायेंगे।

अमृत उद्यान के लिए कार्ययोजना तैयार हो रही हैं। सभी खंड विकास अधिकारियों एवं नगर पंचायतों और नगरपालिका परिषदों को पत्र जारी किए जा चुके हैं। जल्द ही काम शुरू किया जायेगा। 

Edited By: Tanu Gupta