आगरा, जागरण संवाददाता। आम बजट के बाद एक बार फिर आइकोनिक साइट चर्चा में हैं। नई पांच आइकोनिक साइट बनाने की घोषणा बजट में की गई है। आइकोनिक साइट में ताजमहल और फतेहपुर सीकरी भी शामिल हैं, लेकिन दो वर्षो में यह योजना दो कदम भी आगे नहीं बढ़ पाई है।

फरवरी, 2018 में केंद्र सरकार द्वारा 17 आइकोनिक साइट की घोषणा की गई थी। इनमें आगरा का ताजमहल और फतेहपुर सीकरी भी चुनी गई थीं। 21-22 मार्च, 2018 को आगरा में दोनों स्थलों का निरीक्षण और बैठक पर्यटन मंत्रलय से आई टीम ने किया था। इसके बाद कंसल्टेंट का चयन और स्टेकहोल्डर के साथ बैठक कर दोनों साइट के लिए सुझाव लिए गए। कंसल्टेंट एचकेएस और आरकॉम ने प्रोजेक्ट रिपोर्ट दे दी थी। 10 अगस्त, 2019 को दिल्ली में पर्यटन मंत्रलय में आइकोनिक साइट को लेकर बैठक हुई थी। इसके बाद योजना आगे नहीं बढ़ सकी है।

आइकोनिक साइट

पर्यटन मंत्रालय ने आइकोनिक साइट में स्मारकों व स्थलों का चयन इसलिए किया था कि उनका विकास विश्व स्तरीय पर्यटन स्थल के रूप में किया जा सके। उन्हें अन्य स्मारकों व पर्यटन स्थलों के लिए मॉडल के रूप में पेश किया जा सके। आइकोनिक साइट के आसपास समग्र विकास पर्यटन की दृष्टि से किया जाना है। इसमें सड़क, इंफ्रास्ट्रक्चर, होटल, लॉज, कनेक्टिविटी आदि से संबंधित काम किए जाने हैं।

ताज के लिए सुझाव

- ताज से अन्य पर्यटक स्थलों तक जाने को नाव का संचालन। बोट क्लब बनाने के साथ रिवरफ्रंट विकसित करना।

- क्राफ्ट बाजार।

- शिल्पग्राम में किस्सागोई के कार्यक्रम।

- ताजगंज भ्रमण को ताज के दक्षिणी गेट से निकास की व्यवस्था।

फतेहपुर सीकरी के लिए सुझाव

- फतेहपुर सीकरी व आगरा के बीच ट्राम चलाना।

- अनूप तालाब पर कव्वाली का साप्ताहिक आयोजन

- सीकरी में साउंड एंड लाइट शो का आयोजन

- सूफी सेंटर का निर्माण।

- फतेहपुर सीकरी में वेलकम हब बने, जिसमें पार्किंग, रेस्टोरेंट, क्राफ्ट बाजार, टिकट विंडो आदि की व्यवस्था।

योजना पर खड़े हो गए सवाल

आइकोनिक साइट की घोषणा तो की गई, लेकिन दो वर्षो में ताजमहल व सीकरी पर पर्यटन सुविधाओं के विकास को कोई कदम नहीं उठाया गया। इससे योजना पर ही सवाल खड़े हो रहे हैं।

-सुनील गुप्ता, चेयरमैन नॉर्दर्न रीजन, इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स

दो वर्ष में नहीं हुआ कुछ कार्य

ताजमहल व फतेहपुर सीकरी वर्ष 2018 में आइकोनिक साइट घोषित हुए थे। दोनों स्थलों पर पर्यटन सुविधाओं की आवश्यकता है, लेकिन इस दिशा में दो वर्षो में कोई काम नहीं हुआ है।

-संदीप अरोड़ा, अध्यक्ष आगरा टूरिज्म डवलपमेंट फाउंडेशन

 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस